नई दिल्लीः लॉकडाउन की बुरी तरह मार झेलने वाला ऑटोमोबाइल सेक्टर अब कामकाज शुरू करने लगा है. देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने अपनी मानेसर फैक्ट्री में काम शुरू कर दिया है. हालांकि फैक्ट्री प्रबंधन ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कई बदलाव भी किए हैं. लॉकडाउन के कारण इस संयंत्र में लगभग 40 दिनों से काम बंद था. Also Read - गुड़गांव के बाद मारुति के गुजरात प्लांट में निर्माण शुरू

कंपनी के मानेसर और गुरुग्राम संयंत्रों में परिचालन 22 मार्च से निलंबित कर दिया गया था. मारुति सुजुकी इंडिया के अध्यक्ष आर सी भार्गव ने कहा, ‘‘मानेसर संयंत्र में उत्पादन शुरू हो गया है और पहली कार आज (मंगलवार) तैयार होगी.’’ Also Read - ऑटो इंडस्ट्री को चुकानी पड़ी लॉकडाउन की कीमत, अप्रैल में मारुति की नहीं बिकी एक भी कार

उन्होंने कहा कि इस समय 75 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ एकल पारी के आधार पर परिचालन किया जा रहा है. Also Read - एंट्री लेवल ग्राहकों के लिए अच्छा विकल्प है Maruti Suzuki की यह कार, मिलेगा मिनी SUV का फील

पूरी क्षमता के साथ कामकाज कब तक शुरू होगा, इस बारे में पूछने पर भार्गव ने कहा कि यह सरकार के नियमों पर निर्भर करेगा, जैसे दो पारियों में काम की अनुमति कब दी जाएगी, कर्मचारियों की संख्या में बढ़ोतरी कब होगी और आपूर्ति श्रृंखला कब तक सुव्यवस्थित होगी. उन्होंने कहा कि इसमें कई कारक शामिल हैं.

गुरुग्राम संयंत्र शुरू होने के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘वहां काम शुरू होगा, लेकिन अभी नहीं.’’ हरियाणा सरकार ने 22 अप्रैल को कंपनी को मानेसर विनिर्माण संयंत्र फिर शुरू करने की अनुमति दी थी, लेकिन कंपनी ने कहा था कि वह तभी परिचालन शुरू करेगी, जब उत्पादन की निरंतरता और वाहनों की बिक्री संभव होगी.

(इनपुट भाषा)