सैन फ्रांसिस्को: छात्रों और शिक्षकों का दिल जीतने के प्रयासों के तहत माइक्रोसॉफ्ट ने वीडियो चर्चा मंच फ्लिपग्रिड का अधिग्रहण कर लिया है, जिसका इस्तेमाल दुनियाभर में 2 करोड़ से अधिक शिक्षकों व छात्रों द्वारा किया जाता है. दरअसल, माइक्रोसॉफ्ट को छात्रों को शिक्षकों के बीच एप्पल और गूगल से कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ता है. इस अधिग्रहण से कंपनी को छात्रों और शिक्षकों को लुभाने का मौका मिलेगा.

माइक्रोसॉफ्ट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सत्य नडेला ने सोमवार को ट्वीट कर कहा, “माइक्रोसॉफ्ट में फ्लिपग्रिड का स्वागत करते हुए रोमांचित हूं.”

माइक्रोसॉफ्ट के कॉर्पोरेट उपाध्यक्ष (शिक्षा) एरन मेगिड्डो ने कहा, “सभी को वीडियो आधारित सोशल शिक्षा की शक्ति मुहैया कराने के लिए, हम फ्लिपग्रिड को सभी शिक्षकों के लिए मुफ्त कर दिया है और पिछले एक साल में जिन्होंने भी फ्लिपग्रिड की सदस्यता ली है, उनके पैसे लौटा रहे हैं.”

माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ नडेला ने कहा, “फ्लिपग्रिड के चाहनेवाले आश्वस्त हो सकते हैं कि जिस फ्लिपग्रिड को वे जानते हैं और प्यार करते हैं. वह माइक्रोसॉफ्ट में शामिल होने के बाद भी माइक्रोसॉफ्ट, गूगल और अन्य साझेदारों को पारिस्थितिकी तंत्र में बढ़ता रहेगा इस दौरान कंपनी की विशिष्ट ब्रांड, संस्कृति और टीम बनी रहेगी.”

द वर्ज की रिपोर्ट में कहा गया कि माइक्रोसॉफ्ट को छात्रों को शिक्षकों के बीच एप्पल और गूगल से गहरी प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ता है और इस अधिग्रहण से कंपनी को छात्रों और शिक्षकों को लुभाने का मौका मिलेगा. (इनपुट-एजेंसी)