नई दिल्ली। आयकर रिटर्न दाखिल करने की आज अंतिम तिथि तक 5.29 करोड़ से अधिक रिटर्न दाखिल किए गए. यह पिछले साल की तुलना में 60% अधिक है. अधिकारियों ने बताया कि चालू वित्त वर्ष के दौरान करदाताओं ने कुल 5,29,66,509 रिटर्न दाखिल किए. शुक्रवार को अकेले एक दिन में शाम सात बजे तक आयकर विभाग को 22 लाख से अधिक रिटर्न प्राप्त हुए. इनमें से अधिकतर रिटर्न इलेक्ट्रॉनिक तरीके से दाखिल किए गए.

केरल में बढ़ाई गई 15 सितंबर तक तारीख 

अधिकारियों ने बताया कि रिटर्न दाखिल करने का काम 31 अगस्त की मध्यरात्रि तक चलेगा. इसलिए इनकी संख्या में और बढ़ोत्तरी होने की उम्मीद है. इसके अलावा केरल में बाढ़ आने की वजह से वहां रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तिथि 15 सितंबर तक बढ़ा दी गई है.

कुल रिटर्न दाखिल करने वालों की आधिकारिक संख्या प्रक्रिया पूरी होने के बाद अगले कुछ दिन में जारी की जाएगी. पिछले साल करीब 3.2 करोड़ लोगों ने आयकर रिटर्न दाखिल किए गए. रिटर्न दाखिल करने वालों की संख्या में इजाफे के लिये अधिकारियों ने मुख्यतौर पर दो वजहें बताई हैं. पहला नोटबंदी की वजह से कर आधार का विसतार होना और दूसरा पहली बार देरी से रिटर्न दाखिल करने पर जुर्माना लगाने का फैसला होना है.