नई दिल्ली: मदर डेयरी ने पिछले वित्त वर्ष में गाय के दूध के कारोबार में 600 करोड़ रुपये की कमाई की थी और चालू वित्त वर्ष में उपभोक्ता मांग की बदौलत इसमें 65 फीसदी की वृद्धि होने की उम्मीद है. मदर डेयरी ने गाय के दूध की बिक्री वर्ष 2016 के मध्य से शुरू की थी. इसकी बिक्री से उत्साहित होकर उसने ‘गाय के दूध की दही’ पेश की है. शुरुआत में, कंपनी दिल्ली-एनसीआर और उत्तरी भारत के बाजारों में ‘गाय दूध की दही’ बेचेगी. बाद में इसे अन्य बाजारों में ले जाने की योजना है.

Health Tips: Liver को दुरुस्त रखना है तो इन 5 चीजों का करें इस्तेमाल और इनसे बचें

इस दही के 100 ग्राम कप की कीमत 12 रुपये और 400 ग्राम की 45 रुपये है. मदर डेयरी प्रति दिन 35 लाख लीटर तरल दूध बेचती है, जिसमें से लगभग 20 प्रतिशत गाय का दूध है.कंपनी के सूत्रों के मुताबिक, कंपनी ने पिछले वित्त वर्ष में गाय दूध की बिक्री से 600 करोड़ रुपये का कारोबार हासिल किया था और इसी वित्त वर्ष में यह 1,000 करोड़ रुपये तक हो जाने की उम्मीद है.

जानें सेक्स से जुड़ी वे बातें जिन्हें लोग डॉक्टर तक से पूछने में शर्माते हैं

वित्तवर्ष 2017-18 के दौरान मदर डेयरी का कुल कारोबार 8,700 करोड़ रुपये था, जिसमें से अधिकांश तरल दूध से आया था. जबकि शेष योगदान डेयरी उत्पादों, फलों एवं सब्जियों और खाद्य तेलों के खंड का है. कंपनी राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में दूध का एक प्रमुख आपूर्तिकर्ता है जो 800 दूध बूथ के माध्यम से प्रति दिन लगभग 30 लाख लीटर दूध की बिक्री करती है.

दातुन करने के ये फायदे जानेंगे तो आज ही छोड़ देंगे टूथपेस्‍ट-ब्रश, भूल जाएंगे डेंटिस्‍ट का पता…

मुंबई, हैदराबाद, कोलकाता और उत्तर प्रदेश जैसे अन्य शहरों में, यह प्रति दिन पांच लाख लीटर दूध बेचती है. यह ‘सफल’ ब्रांड के तहत ताजा और ठंड में जमाये गये फल और सब्जियां बेचता है, जबकि ‘धारा’ ब्रांड के तहत खाद्य तेल की बिक्री की जाती है. दिल्ली-एनसीआर में कंपनी के 400 सफल बिक्रीकेन्द्र हैं. फ्रैंचाइजी मॉडल पर सफल बिक्रीकेन्द्र संचालित किए जा रहे हैं, जहां कंपनी की ओर से मूल आधारभूत संरचना प्रदान की जाती है.