नई दिल्ली: भारतीय उद्योगपति और रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी के सिर से एशिया के सबसे बड़े धनकुबेर का ताज छिन गया है. एशिया के सबसे बड़े धनकुबेर अब चीन के उद्योगपति और अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग लिमिटेड के संस्थापक जैक मा बन गए हैं. Also Read - कोरोना के खिलाफ लड़ाई, PM-CARES Fund में 500 करोड़ दान करेगा रिलायंस

तेल के दाम में आई भारी गिरावट के साथ-साथ वैश्विक बाजार में गिरावट के बाद भारत के सबसे अमीर मुकेश अंबानी की दौलत सोमवार को 5.8 अरब डॉलर घट गई, जिसके बाद वह एशिया के सबसे ज्यादा दौलतमंद लोगों की फेहरिस्त में दूसरे पायदान पर आ गए हैं. इस फेहरिस्त में शीर्ष पर चीन के जैक मा आ गए हैं. मतलब, जैक मा अब एशिया के सबसे बड़े धनकुबेर बन गए हैं, जिनकी दौलत 44.5 अरब डॉलर है, जोकि मुकेश अंबानी की दौलत से 2.6 अरब डॉलर से अधिक है. ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स के मुताबिक, चीनी उद्योगपति जैक मा 44.5 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ एशिया के सबसे बड़े धनकुबेर बन गए हैं, जबकि भारत के मुकेश अंबानी दूसरे स्थान पर आ गए हैं. Also Read - कोरोना संकट से निपटने के लिए सामने आए देश के उद्योगपति, जानिए किसने दिया कितना दान

सोमवार को रिलायंस के शेयर में 12 फीसदी से ज्यादा की गिरावट
बता दें कि तेल की कीमतों को लेकर सउदी अरब और रूस के बीच छिड़ी जंग के कारण सोमवार को अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में 1991 के बाद सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई. अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इससे आई गिरावट के कारण सोमवार को रिलायंस के शेयर में 12 फीसदी से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई, जोकि 2009 के बाद सबसे बड़ी गिरावट है. Also Read - मुकेश अंबानी का दावा, कहा-आर्थिक सुस्ती अस्थायी, अगला दशक लाएगा ऐतिहासिक अवसर