मुंबई: मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने पंजाब एंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव (पीएमसी) बैंक घोटाले में एस. रंजीत सिंह को गिरफ्तार कर लिया है. एक अधिकारी ने यहां शनिवार देर शाम कहा कि सिंह बैंक के एक निदेशक थे और भाजपा की राज्य इकाई के वरिष्ठ नेता सरदार तारा सिंह के बेटे हैं. तारा सिंह मुलुंड से विधायक रह चुके हैं.

 

मुंबई पुलिस के प्रवक्ता और पुलिस उपायुक्त प्रणय अशोक के अनुसा, रंजीत सिंह को पीएमसी बैंक के निदेशकों और एचडीआईएल समूह के निदेशकों द्वारा की गई 4,355 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के संबंध में पूछताछ के लिए लाया गया है. चूंकि रंजीत लगभग 13 सालों तक बैंक के एक निदेशक थे और बैंक की रिकवरी कमेटी के सदस्य थे, लिहाजा उनसे एचडीआईएल समूह की कंपनियों को दिए गए ऋण को लेकर पूछताछ की गई. लेकिन उन्होंने पूछताछ में सहयोग नहीं किया और असंतोषजनक जवाब दिए, जिसके बाद अपराध में उनकी संलिप्तता साफ हो गई और जांचकर्ताओं ने इसकी पुष्टि कर ली.

PMC बैंक घोटाला: दो निदेशकों की अग्रिम जमानत याचिका हुई खारिज, दो ऑडिटर गिरफ्तार

डीसीपी ने कहा कि उसके बाद उन्हें देर शाम गिरफ्तार कर लिया गया और रविवार को उन्हें एक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया जाएगा और आगे की जांच के लिए उनकी पुलिस रिमांड ली जाएगी. सितंबर में सामने आए इस घोटाले के बाद से अभी तक पीएमसी बैंक के वरिष्ठ मौजूदा और पूर्व अधिकारियों, और एचडीआईएल समूह के शीर्ष अधिकारियों सहित आधा दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है.