Mustard Oil: सरसों तेल के उपभोक्ताओं के लिए एक राहत वाली खबर आ रही है. सरसों तेल में प्रयोग होने वाले ब्लेंडिंग को लेकर ‘भारतीय खाद्य संरक्षा व प्राधिकरण’ (fssai) ने पत्र जारी किया है. इसके बाद उम्मीद की जा रही है कि देशभर में सरसों के तेल के दाम कम हो सकते हैं. Also Read - Mustard Oil: वजन कम करता है सरसों का तेल, दिल की सेहत के लिए सबसे बेस्ट, जानें फायदे

बता दें, सरकार ने अक्तूबर माह में सरसों तेल में ब्लेंडिंग पर रोक लगा दी थी.सरकार के इस फैसले के बाद से तेल की कीमतों में बढ़ोतरी शुरू हो गई थी. जिसका नतीजा यह निकला कि देशभर में सरसों तेल की कीमतें बढ़कर 150 से 190 रुपये प्रति लीटर हो गईं.
सरकार के निर्णय के खिलाफ कुछ कंपनियों ने दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया. हाईकोर्ट में ब्लेंडिंग को लेकर दायर एक याचिका पर सुनवाई हुई. इसके बाद भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण ने सरसों ल पर लगी ब्लेंडिंग की रोक को हटा दिया. Also Read - Kachi Ghani Sarson Ka Tel: कच्ची घानी सरसों का तेल बेहद फायदेमंद, नहीं बनने देता किलर फैट

गौरतलब है कि सरसों तेल में तय मात्रा में अन्य तेलों का मिश्रण किया जाता है, जिसे ब्लेंडिंग कहा जाता है. तय मात्रा के मुताबिक, अभी तक तेल कंपनियों को सरसों के तेल में 20 फीसदी तक ब्लेंडिंग करने की अनुमति थी. सरकार ने ब्लेंडिंग की आड़ में मिलावट और शुद्ध सरसों तेल की खपत को बढ़ाने का हवाला देते हुए इस पर रोक लगाई थी. Also Read - Bird Flu Guidelines: बर्ड फ्लू पर केंद्र सरकार अलर्ट, Fssai ने जारी किए दिशानिर्देश- अंडे, चिकन से बचें लोग

जानिए- कितने बढ़े थे तेल के दाम

वर्तमान में एक लीटर पाम ऑयल की कीमत 75 से 110 रुपये हो गई है. बाजार में सनफ्लावर ऑयल 98 से 130 रुपये और सरसों का तेल 110 से 150 रुपये लीटर की कीमत पर बिक रहा है. वहीं, कुछ खास कंपनियों का सरसों का तेल 190 रुपये लीटर भी बिक रहा है.