नई दिल्ली: आज से आपको ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने के लिए आपको टाइम और डेट देखने की जरूरत नहीं पड़ेगी. डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक ने ग्राहकों को बड़ा तोहफा दिया है. 16 दिसंबर यानी आज से राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक कोष हस्तांतरण प्रणाली (NEFT) के जरिए आप 24 घंटे और साल के 365 दिन लेनदेन कर सकते हैं. यानी अब छुट्टी वाले दिन भी आप NEFT के जरिए ट्रांजैक्शन कर सकते हैं.

NEFT करने की टाइमिंग

NEFT के जरिए पैसे ट्रांसफर करने के लिए दो बैच बनाए गए हैं. पहला बैच सुबह 12.30 से शुरू होगा, जबकि लास्ट बैच मिड नाइट में खत्म होगा. जैसे ही NEFT पेमेंट का लास्ट बैच खत्म होगा, उसके बाद आप रात 11.30 के बाद कोई भी ट्रांजैक्शन नहीं कर पाएंगे. अगला बैच सुबह 12.30 पर शुरू होने के बाद ही आप ट्रांजैक्शन कर पाएंगे. इसके अलावा, बैंक हॉलीडे पर लोग NEFT के जरिए पैसे ट्रांसफर नहीं कर पाएंगे. लोगों को बैंक के खुलने का इंतजार करना होगा. एनईएफटी ट्रांजैक्शन का निस्तारण सामान्य दिनों में सुबह आठ बजे से शाम सात बजे के दौरान तथा पहले और तीसरे शनिवार को सुबह आठ बजे से दोपहर एक बजे तक घंटे के आधार पर किया जाता है.

NEFT के चार्जेस

रिजर्व बैंक ने सभी बैंकों को नियामक के पास चालू खाते में हर समय पर्याप्त राशि रखने को कहा है ताकि एनईएफटी ट्रांजैक्शन में कोई समस्या नहीं हो. बता दें कि NEFT और RTGS ट्रांजैक्शन पर शुल्क पहले ही समाप्त कर दिया गया है.

NEFT करने की लिमिट

एनईएफटी हस्तांतरण के लिए कोई न्यूनतम सीमा नहीं है, लेकिन आम तौर पर इसका इस्तेमाल 2 लाख तक के फंड ट्रांसफर के लिए किया जाता है. उच्च मूल्य के लेनदेन के लिए, RTGS का उपयोग किया जाता है. एनईएफटी की अधिकतम सीमाएं बैंक से बैंक तक भिन्न होती हैं और ग्राहक श्रेणी पर भी निर्भर करती हैं.