नई दिल्‍ली: केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस महामारी के चलते मौजूद वित्‍तीय संकट को देखते हुए नई योजनाओं की शुरुआत पर रोक लगा दी है. लेकिन अगले एक वर्ष तक पीएम गरीब कल्याण पैकेज और आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत की खर्च किया जाएगा. Also Read - केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए खुशखबरी! वित्त मंत्रालय ने कहा- वेतन में कटौती का कोई प्रस्ताव नहीं

वित्‍त मंत्रालय ने कहा कि ऐसी योजनाओं के लिए सैद्धांतिक स्वीकृति इस वित्तीय वर्ष में नहीं दी जाएगी. पहले से ही स्वीकृत या अनुमोदित नई योजनाओं की शुरूआत 31, 2021 तक या अगले आदेश तक जो भी पहले हो, एक वर्ष तक निलंबित रहेगी. Also Read - Coronavirus In India: अधिकारियों ने दी सरकार को सलाह, अमीरों से वसूला जाए ज्यादा Tax

वित्त मंत्रालय ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए किसी नई योजना की शुरुआत पर रोक लगाने का ये आदेश गुरुवार को दिया था. बता दें वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले महीने घोषित 20 लाख करोड़ रुपए से अधिक के आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज का प्रोत्‍साहन दिया था. Also Read - अफवाहों पर विराम, वित्त मंत्रालय ने कहा- केंद्र सरकार के पेंशन भोगियों की पेंशन में कोई कटौती नहीं

बता दें 12 मई को राष्ट्र के नाम संदेश में प्रधानमंत्री ने 20 लाख करोड़ रूपये के समग्र आर्थिक पैकेज की घोषणा की थी, जो जीडीपी का 10 प्रतिशत होता है. उन्होंने कहा था कि कोरोना वायरस का संकट भारत को आत्मनिर्भर बनने का एक अवसर भी प्रदान करता है.