NTPC News: सरकार द्वारा संचालित बिजली कंपनी एनटीपीसी लिमिटेड (NTPC) वर्ष 2032 तक अपनी शुद्ध ऊर्जा तीव्रता को 10 प्रतिशत कम करने का लक्ष्य लेकर चल रही है.Also Read - NTPC recruitment 2022: एनटीपीसी में 55 एग्‍ज‍ीक्‍यूटिव पदों पर रिक्‍त‍ियां, ऐसे करें आवेदन

ऊर्जा पर संयुक्त राष्ट्र उच्च स्तरीय वार्ता के हिस्से के रूप में अपने ऊर्जा कॉम्पैक्ट लक्ष्यों की घोषणा करते हुए एनटीपीसी ने 2032 तक 60 जी डब्ल्यू अक्षय ऊर्जा क्षमता स्थापित करने का लक्ष्य भी रखा है. Also Read - NTPC Recruitment 2022: एनटीपीसी में इन पदों पर आई भर्ती, जल्दी करें आवेदन, 1,40,000 तक मिलेगी सैलरी

कंपनी के एक बयान में कहा गया है कि एनटीपीसी अपने ‘ऊर्जा कॉम्पैक्ट’ लक्ष्यों की घोषणा करने वाले वैश्विक स्तर पर कुछ संगठनों में से एक है. Also Read - NTPC Jobs 2021/Sarkari Naukari: इंजीनियरों के लिए एनटीपीसी में निकली बंपर भर्ती, जानें कितना मिलेगा वेतन

इसके अलावा, बिजली उत्पादन कंपनी ने घोषणा की है कि वह 2025 तक स्वच्छ ऊर्जा अनुसंधान की सुविधा और ऊर्जा मूल्य श्रृंखला में स्थिरता को बढ़ावा देने के लिए कम से कम दो अंतरराष्ट्रीय गठबंधन बनाएगी.

लक्ष्यों का अनावरण हाल ही में आयोजित ‘मिनिस्ट्रियल थीमैटिक फोरम फॉर द एचडीएलई’ कार्यक्रम में किया गया. बयान में कहा गया है कि एनटीपीसी की प्रतिबद्धता को संयुक्त राष्ट्र की वेबसाइट पर भी सार्वजनिक किया गया है.

सतत विकास के लिए 2030 एजेंडा के ऊर्जा संबंधी लक्ष्यों और लक्ष्यों के कार्यान्वयन को बढ़ावा देने के लिए संयुक्त राष्ट्र सितंबर 2021 में एक उच्च स्तरीय वार्ता आयोजित करने के लिए तैयार है.

एनटीपीसी अक्षय ऊर्जा (आरई) स्रोतों की महत्वपूर्ण क्षमताओं को जोड़कर अपने हरित ऊर्जा पोर्टफोलियो को बढ़ाने के लिए कई कदम उठा रहा है. कंपनी ने पहले आरई स्रोतों के माध्यम से न्यूनतम 32 गीगावॉट क्षमता रखने की योजना बनाई थी, जो साल 2032 तक इसकी कुल बिजली उत्पादन क्षमता का लगभग 25 प्रतिशत है.

यह विकास देश के सबसे बड़े ऊर्जा उत्पादक के लिए बहुत बड़ा प्रोत्साहन साबित होगा जो देश के हरित ऊर्जा मानचित्र में अपनी स्थिति को मजबूत करेगा.

(IANS)