ट्रांसपोर्टेशन के लिए भारत की शीर्ष एप्प ओला ने आज शहर में ओला शेयर का किराया सबसे कम करने की घोषणा करते हुए बताया कि अब ओला शेयर से शुरुवात केवल 6 रुपये प्रतिकिलोमीटर की जा सकेगी। शहर में निजी परिवहन का सबसे किफायती साधन होगा। ओला शेयर नए ज़माने का सुविधापूर्ण शहर लघुकरण विकल्प है। किराये में इस कमी ने इसे यक्तिगत कार यात्रा के सबसे उचित विकल्प के तौर पर पेश किया है। इससे ग्राहक पूरी यात्रा लागत का 50 % से भी अधिक बचा सकते हैं। Also Read - देश के 160 शहरों में ओला कैब शुरू, सिर्फ 2 लोगों के बैठने की होगी अनुमति, क्या आपको मिलेगा इसका फायदा

Also Read - Cab ड्राइवर ने मॉडल की हत्या कर पति से मांगे 5 लाख रुपये, पुलिस ने ऐसे सॉल्व की मॉडर मिस्ट्री

इस मौके पर कंपनी के ईशान गुप्ता ने कहा ” ओला शेयर के साथ हम भारी मात्रा में विश्व्सियता और वहनीय मोबिलिटी समाधान प्रस्तुत कर रहे है। उपयोगकर्ता के लिए अब किराये के महज 50 % पर ही एसी कैब का आरामदायक सफ़र मिल सकेगा। साथ ही वे इसे अपने परिचित सोशल ग्रुप के साथ साझा कर और भी सस्ता बना सकेंगे। यह भी पढ़े-ओला ने ‘स्वच्छ कार अभियान’ लांच किया Also Read - सनसनीखेजः कैब ड्राइवर को अगवाकर वीडियो कॉल के जरिए पत्नी का न्यूड वीडियो बनवाया

ईशान ने आगे कहा ओला शेयर के और भी बहुत से लाभ हैं जिसमे प्रदुषण मुक्त एवं भीड़मुक्त सडकों से निजात मिलेगी। ताकि शहर साफ़ सुथरे और हरित रह सकें।

गौरतलब है कि ओला की स्थापना वर्ष 2011 में आईआईटी मुंबई के पूर्व छात्रों भावेश अग्रवाल और अंकित भाटी ने ओला के नाम से ओला कैब शुरू की।  बताना चाहेंगे की यह यात्रा के लिए भारत का सबसे लोकप्रिय मोबाइल एप्प है।  साथ ही ओला मोबाइल एप्प का उपयोग पुरे देश के 102 शहरों में किया जा रहा है।  जहां से इस मंच के माध्यम से 350,000 वाहन जिनमे कैब, ऑटो रिक्शा और टैक्सीयां जुड़े हुए है।