Old notes buy | sell: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने जनता को पुराने नोटों और सिक्कों की खरीद-बिक्री की पेशकश के झांसे में आने से बचने के लिए आगाह किया है. एक बयान में, केंद्रीय बैंक ने कहा कि कुछ तत्व धोखाधड़ी से भारतीय रिजर्व बैंक के नाम और लोगों का उपयोग कर रहे हैं, और विभिन्न ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से पुराने बैंक नोटों और सिक्कों की खरीद और बिक्री से संबंधित लेनदेन में जनता से शुल्क, कमीशन और कर की मांग कर रहे हैं.Also Read - RBI Penalty: RBI ने इस बैंक पर लगाया 2 करोड़ रुपये का जुर्माना, जानिए- क्या है मामला?

यह कहा, यह स्पष्ट किया है कि भारतीय रिजर्व बैंक ऐसे मामलों से डील नहीं करती है. और कभी भी किसी भी प्रकार के शुल्क और कमीशन की मांग नहीं करती है. भारतीय रिजर्व बैंक ने किसी भी संस्थान,फर्म,व्यक्ति आदि इस तरह के लेनदेन को अपनी ओर से शुल्क और कमीशन लेन के लिए अधिकृत नहीं किया है. Also Read - RBI News: वित्त वर्ष 22 की दूसरी छमाही में 5.03 लाख करोड़ रुपये उधार लेगी सरकार

आरबीआई ने जनता को सतर्क रहने की सलाह दी है और इस तरह के फर्जी और धोखाधड़ी वाले प्रस्तावों के माध्यम से पैसे निकालने के लिए अपने नाम का उपयोग करने वाले तत्वों के शिकार नहीं होने की सलाह दी है. Also Read - आरबीआई ने डब्ल्यूएमए की सीमा 50 हजार करोड़ रुपये तय की