Onion Price Hike: पेट्रोल और डीजल (Petrol-diesel Price Hike) की आसमान छूती कीमतों से परेशान आम आदमी को अब प्याज की बढ़ती कीमतें (Onion Price Hike) भी रूलाने लगी हैं. पिछले डेढ़ महीने में प्याज की कीमत दोगुनी हो गई है. एशिया की सबसे बड़ी प्याज मंडी लासलगांव में ही प्याज का भाव दो दिन में 1000 रुपये प्रति क्विंटल महंगा हो गया तो वहीं दिल्ली में थोक बाजार में प्याज 50 रुपये किलो बिक रहा है जबकि इसकी खुदरा कीमत 65 से 75 रुपये किलो तक पहुंच गई है.Also Read - Onion Price: प्याज की कीमतों में कटौती के लिए केंद्र सरकार ने उठाया यह बड़ा कदम...

प्याज की बढ़ती कीमतों की ये है बड़ी वजह Also Read - Vegetable Price Hike: बेमौसम बारिश ने बिगाड़ा खेल, सब्जियों और फलों के दाम बढ़े

मीडिया खबरों के मुताबिक लासलगांव मंडी में प्याज का औसत थोक भाव पिछले 2 दिनों में 970 रुपये प्रति क्विंटल बढ़कर 4200-4500 रुपये प्रति क्विंटल पहुंच गया है. बता दें कि नासिक के लासलगांव से देश भर में प्याज भेजा जाता है. कुछ समय पहले महाराष्ट्र में बेमौसम बरसात होने और ओले पड़ने की वजह से प्याज की फसल को काफी नुकसान हुआ है, जिसकी वजह से थोक मंडी में प्याज की आवक कम हो गई है और इसी वजह से प्याज महंगा हो गया है. Also Read - Onion Price Hike: प्याज की बढ़ती कीमतों को काबू करने को सरकार ने इश्यू किया बफर स्टॉक, टमाटर- आलू के रेट कम करने के प्रयास जारी

अभी और बढ़ सकती है प्याज की कीमत
शनिवार को लासलगांव में प्याज का औसत भाव 4250-4,551 प्रति क्विंटल के करीब था. खरीफ वैरायटी के प्याज के लिए इसका भाव 3,870 रुपये प्रति क्विंटल दर्ज किया गया था. एक व्यापरी के मुताबिक बारिश के चलते प्याज की कीमत में इजाफा हुआ है. 20 फरवरी को लासलगांव मंडी में प्याज के भाव 3,500-4,500 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से बिक रहा था, कहा जा रहा है कि आने वाले दिनों में प्याज के और महंगा हो सकता है.कई व्यापारियों ने बताया कि खरीफ फसलों की आपूर्ति में कमी आई है.