नई दिल्ली. देश के ऑटोमोबाइल सेक्टर में छाया मंदी का दौर थम नहीं रहा है. पिछले 8 महीनों से वाहनों की बिक्री में आ रही गिरावट अब भी जारी है. यात्री वाहनों की बिक्री जुलाई में लगातार नौवें महीने गिरी है. यह 30.98 प्रतिशत घटकर 2,00,790 वाहन रही है जो जुलाई 2018 में 2,90,931 वाहन थी. भारतीय वाहन विनिर्माताओं के संगठन सियाम (Society of Indian Automobile Manufacturers) ने मंगलवार को इस संबंध में आंकड़े जारी किए. ऑटो उद्योग में जारी मंदी को लेकर पिछले कई महीनों से बाजार विशेषज्ञ चिंता जता रहे हैं.

SIAM की रिपोर्ट के मुताबिक समीक्षावधि में घरेलू बाजार में कार की बिक्री 35.95 प्रतिशत टूटकर 1,22,956 वाहन रही. जुलाई 2018 में 1,91,979 वाहन थी. इसी तरह मोटरसाइकिल की घरेलू बिक्री पिछले महीने 9,33,996 इकाई रही जो जुलाई 2018 की 11,51,324 इकाई बिक्री के मुकाबले 18.88 प्रतिशत कम है. जुलाई में दोपहिया वाहनों की कुल बिक्री 15,11,692 वाहन रही. जुलाई 2018 में यह आंकड़ा 16.82 प्रतिशत अधिक यानी 18,17,406 वाहन था.

वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री में भी समीक्षावधि के दौरान गिरावट देखी गई है. यह 25.71 प्रतिशत घटकर 56,866 वाहन रही जो पिछले साल जुलाई में 76,545 वाहन थी. विविध श्रेणियों में कुल वाहन बिक्री जुलाई में 18.71 प्रतिशत गिरकर 18,25,148 वाहन रही जो जुलाई 2018 में 22,45,223 वाहन थी. सियाम के मुताबिक सभी वाहन श्रेणियों में जुलाई में गिरावट दर्ज की गई है. आपको बता दें कि घरेलू यात्री कारों की बिक्री में लगातार गिरावट के पीछे बाजार विशेषज्ञ कम मांग और जीएसटी के कारण उच्च लागत बताते रहे हैं. सियाम की जुलाई महीने की रिपोर्ट में भी जब घरेलू यात्री कारों की बिक्री में 24 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई थी, उस समय भी विशेषज्ञों ने ऑटो उद्योग में मंदी को लेकर चिंता जताई थी.