भारत के घरेलू डिजिटल वित्तीय सेवा प्लेटफॉर्म पेटीएम (Paytm) ने गुरुवार को घोषणा की कि उसकी पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी पेटीएम मनी (Paytm Money) ने फ्यूचर्स एंड ऑप्शंस (F&O) ट्रेडिंग को सभी के लिए खोल दिया है. इसका उद्देश्य एक महत्वपूर्ण धन प्रबंधन उत्पाद (Wealth Management Product) के रूप में एफ एंड ओ ट्रेडिंग के साथ लोगों को सशक्त बनाना है. Also Read - Breaking News! Share market trading temporarily halts : तकनीकी दिक्कतों की वजह से रोकी गई ट्रेडिंग

कंपनी ने एक बयान में कहा कि उसे अपने अर्ली एक्सेस प्रोग्राम के लिए 1 लाख से अधिक अनुरोधों के साथ अपने प्लेटफॉर्म पर एफएंडओ ट्रेडिंग के लिए जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली है. ट्रेडिंग अब सभी के लिए पेटीएम मनी एप और वेबसाइट पर लाइव है. Also Read - FASTag से कट गए ज्यादा पैसे तो न हों परेशान, Paytm करेगा आपकी मदद, मिल जाएगा रिफंड

कंपनी ने दावा किया है कि वह फ्यूचर्स एंड ऑप्शंस ट्रेडिंग के लिए 10 रुपये में सबसे कम और सबसे अधिक प्रतिस्पर्धी ब्रोकरेज की सुविधा यूजर्स को दे रही है. कंपनी ने डिलीवरी के लिए शून्य और इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए प्रति ट्रांजैक्शन ट्रेडिंग फीस केवल 10 रुपये रखी है, जो कि काफी कम है. पेटीएम मनी द्वारा लिया जाने वाला यह शुल्क ग्राहकों को अन्य प्लेटफॉर्म्स की तुलना में काफी कम पड़ेगा. Also Read - Paytm-Google Pay की वॉलेट की सर्विस से हैं परेशान तो अब न लें टेंशन, RBI करेगा आपकी मदद

मूल्य कम होने के साथ-साथ यह अनुभवी से लेकर पहली बार ट्रेडिंग कर रहे व्यापारियों को उनके मोबाइल पर एक सुरक्षित वातावरण में बेस्ट-इन-क्लास उत्पाद के साथ फ्यूचर्स एंड ऑप्शंस में व्यापार करने का लाभ मिलेगा.

एफएंडओ प्लेटफॉर्म में सहज यूआई और आसान ऑनबोर्डिग है, जो एफ एंड ओ ट्रेडिंग को हर भारतीय के लिए सुलभ और संभव बनाता है.

पेटीएम मनी ने अपने बयान में कहा है कि अर्ली ऐक्सेस प्रोग्राम के दौरान कंपनी ने टियर-3, टियर-4 और शेष भारत के अन्य शहरों से एफ एंड ओ ट्रेड में बड़े पैमाने पर दिलचस्पी देखी है. कंपनी ने 30 वर्ष से कम आयु के उपयोगकर्ता आधार और महिला निवेशकों में धन उत्पादों के प्रति भी रुचि में वृद्धि दर्ज की है.

पेटीएम मनी का उद्देश्य सभी भारतीयों के लिए स्टॉक ट्रेडिंग को सरल बनाना है, चाहे वे अनुभवी व्यापारी हों या पहले से बाजार में निवेश करने वाले व्यापारी हों. यही वजह है कि कंपनी ने अपनी एप और वेबसाइट दोनों के माध्यम से निवेश और व्यापार करने की सुविधा दी है, जिसे संचालित करना बेहद सरल है.

पेटीएम मनी के सीईओ वरुण श्रीधर ने कहा, “हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि जनवरी के अर्ली एक्सेस लॉन्च के बाद एफ एंड ओ के शुरुआती कुछ हफ्तों के दौरान 1 लाख से अधिक उपयोगकर्ताओं को एक्सेस की अनुमति दी गई है. प्लेटफार्म पर टीयर 1 शहरों जैसे मुंबई, दिल्ली, पुणे, हैदराबाद और कोलकाता के यूजर्स ज्यादा हैं. छोटे शहरों में पटना, कोटा और गुंटूर के यूजर्स रुचि दिखा रहे हैं. इसके अलावा 50 प्रतिशत से अधिक यूजर्स की उम्र 20 से 30 साल के बीच हैं.”

उन्होंने कहा, “बिना किसी कॉन्ट्रैक्ट या कमिटमेंट के 10 रुपये प्रति ऑर्डर की हमारी कीमत ट्रेडिंग की समग्र लागत को काफी कम कर देती है और इसे सुपर पारदर्शी भी बनाती है. इसके साथ ही पेटीएम मनी भारत के सबसे व्यापक और शीर्ष डिजिटल धन प्रबंधन प्लेटफॉर्म बनने के लिए एक कदम आगे ले जा रहा है.”

भारत में एफ एंड ओ ट्रेडिंग एक अत्यधिक प्रतिस्पर्धी क्षेत्र है, जो कई पुराने और युवा दिग्गजों को होस्ट करता है. इतने कम समय में पेटीएम मनी पर एफएंडओ ट्रेडिंग का यह व्यापक रूप से अपनाया जाना हमारे लिए काफी महत्व रखता है और प्रत्येक भारतीय के लिए डिजिटल ट्रेडिंग को लोकतांत्रिक बनाने के हमारे प्रयासों के लिए मान्यता को इंगित करता है. फ्यूचर्स और ऑप्शंस सेगमेंट में सरलीकृत ट्रेडिंग के साथ, प्लेटफॉर्म उपयोगकर्ता को बाजारों पर शोध करने, बाजार मूवर्स का पता लगाने, अनुकूलन वॉचलिस्ट बनाने और 50 से अधिक शेयरों के लिए मूल्य अलर्ट सेट करने के लिए पर्याप्त अवसर प्रदान करता है.

इसके अलावा, बिल्ट-इन ब्रोकरेज कैलकुलेटर के साथ निवेशक लेन-देन शुल्क की खोज कर सकता है और शेयरों को लाभकारी रूप से बेचने के लिए सटीक निवारक मूल्य जान सकता है. इसके अलावा स्टॉक ट्रेडिंग के अनुभव को और अधिक फायदेमंद बनाने के लिए एडवांस्ड चार्ट और कवर ऑर्डर और ब्रैकेट ऑर्डर जैसे अन्य विकल्प जोड़े गए हैं. यह सब बैंक-स्तरीय सुरक्षा के साथ निवेशकों के व्यक्तिगत डेटा को सुरक्षित रखने के लिए पूर्ण डेटा गोपनीयता के साथ उपलब्ध होगा. इसके अलावा, कंपनी अधिक मूल्यवर्धक सुविधाओं के साथ आने की योजना बना रही है और बहुत जल्द अपने मंच पर कुछ और रोमांचक उत्पादों को लॉन्च करने का इरादा रखती है.

पेटीएम मनी वन97 कम्युनिकेशंस की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है, जो पेटीएम की मालिक है और इसका संचालन करती है. यह देश का सबसे बड़ा ऑनलाइन निवेश मंच है और अब अपने उपयोगकर्ताओं के लिए स्टॉक, ईटीएफ, आईपीओ, डिजिटल गोल्ड, डायरेक्ट म्यूचुअल फंड और एनपीएस की वर्तमान सुविधा के साथ ही एफ एंड ओ की सुविधा भी लेकर आ गया है.

इसका उद्देश्य पूर्ण-स्टैक निवेश और धन प्रबंधन मंच बनने के साथ ही करोड़ों भारतीयों के लिए धन सृजन के अवसरों को सामने लाना है. इसका मुख्यालय और संचालन बेंगलुरु से होता है, जिसकी टीम में 300 से अधिक सदस्य हैं.

(IANS)