Paytm Transit Card: पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड (Paytm Payments Bank) ने सोमवार को वन नेशन, वन कार्ड (One Nation, One Card) के विजन को ध्यान में रखते हुए पेटीएम ट्रांजिट कार्ड (Paytm Transit Card) लॉन्च करने की घोषणा की. यह कार्ड यूजर्स की दैनिक जरूरतों का ख्याल रखेगा. मेट्रो, रेलवे, राज्य सरकार की बस सेवाओं की तरह, ऑफलाइन मर्चेंट स्टोर पर भुगतान करने के लिए टोल और पार्किंग शुल्क का उपयोग ऑनलाइन खरीदारी के लिए किया जा सकता है. इतना ही नहीं इस कार्ड के जरिए आप एटीएम (ATM) से पैसे भी निकाल सकते हैं. पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने एक बयान में कहा कि ट्रांजिट कार्ड की शुरुआत उन उत्पादों को लाने की बैंक की पहल के अनुरूप है जो सभी भारतीयों के लिए बैंकिंग और लेनदेन को सहज बनाते हैं.Also Read - Netaji Subhash Chandra Bose की प्रतिमा के होलोग्राम का PM Modi आज करेंगे अनावरण, जानें क्या होगा खास

पेटीएम ऐप पर कार्ड लेनदेन को लागू करने, रिचार्ज करने और ट्रैक करने के लिए एक डिजिटल प्रक्रिया भी बनाई गई है. वह कार्ड यूजर्स के घर पहुंचा दिया जाएगा या इसे सेल्स सेंटर्स पर खरीदा जा सकता है. प्रीपेड कार्ड सीधे पेटीएम वॉलेट से जुड़ा होता है. Also Read - Delhi's first electric BUS: दिल्ली की सड़कों पर दौड़ी पहली इलेक्ट्रिक बस, मुख्यमंत्री ने हरी झंडी दिखाकर लोगों से की अपील

हैदराबाद में पहले से ही काम कर रहा है यह कार्ड Also Read - Weekend Curfew in Delhi: राजधानी में अगले 55 घंटे तक गैर-आवश्यक गतिविधियों पर रहेगी रोक

हैदराबाद मेट्रो रेल के सहयोग से पेटीएम ट्रांजिट कार्ड रोलआउट शुरू किया जा रहा है. हैदराबाद में उपयोगकर्ता अब एक ट्रांजिट कार्ड खरीद सकते हैं, जिसे यात्रा के लिए स्वचालित किराया संग्रह गेट पर प्रदर्शित किया जा सकता है. पेटीएम ट्रांजिट कार्ड उन 50 लाख से अधिक यात्रियों की मदद करेगा जो रोजाना मेट्रो/बस/ट्रेन सेवाओं का उपयोग करते हैं और निर्बाध कनेक्टिविटी का अनुभव करते हैं.

यह कार्ड दिल्ली एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन और अहमदाबाद मेट्रो में पहले ही शुरू हो चुका है. पेटीएम ट्रांजिट कार्ड के साथ, लोग एक ही कार्ड का उपयोग महानगरों के साथ-साथ देश भर के अन्य मेट्रो स्टेशनों में भी कर सकते हैं.

पेटीएम पेमेंट्स बैंक के एमडी और सीईओ सतीश गुप्ता ने बताया कि पेटीएम ट्रांजिट कार्ड के लॉन्च से लाखों भारतीय एक ही कार्ड के जरिए सभी काम कर सकेंगे. इस कार्ड में बैंकिंग जरूरतों और ट्रांसपोर्ट का खास ख्याल रखा गया है. बैंक ने राष्ट्रीय और राज्य राजमार्गों पर 280 से अधिक टोल प्लाजा को डिजिटल रूप से टोल शुल्क जमा करने में सक्षम बनाया है.