नई दिल्ली: पेट्रोल और डीजल के दाम गुरुवार को फिर बढ़ गए. तेल विपणन कंपनियों ने दिल्ली और कोलकाता में पेट्रोल के भाव में छह पैसे जबकि मुंबई में पांच पैसे और चेन्नई में सात पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की है. वहीं, डीजल की कीमत दिल्ली, कोलकाता और मुंबई में पांच पैसे जबकि चेन्नई में छह पैसे प्रति लीटर बढ़ गई है. उधर, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में फिर तेजी लौटी है.

बाजार विश्लेषकों के अनुसार, अमेरिका और चीन के बीच व्यापारिक तनाव कम होने की उम्मीदों से कच्चे तेल के दाम में तेजी देखी जा रही है. उधर, अमेरिका में कच्चे तेल का भंडार घटने से कीमतों को सपोर्ट मिला है. कच्चे तेल के दाम में अगर यह तेजी जारी रहती है तो आने वाले दिनों में पेट्रोल और डीजल और महंगे हो सकते हैं. इंडियन ऑयल की बेवसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम गुरुवार बढ़कर क्रमश: 71.82 रुपये, 74.55 रुपये, 77.50 रुपये और 74.63 रुपये प्रति लीटर हो गए. चारों महानगरों में डीजल के दाम भी बढ़कर क्रमश: 65.19 रुपये, 67.60 रुपये और 68.37 रुपये और 68.90 रुपये प्रति लीटर हो गए हैं.

दो रुपये महंगा हुआ मदर डेयरी का गाय का दूध, अब इतने रुपये में मिलेगा एक लीटर का पैक

61.14 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार
अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज यानी आईसीई पर बेंचमार्क कच्चा तेल ब्रेंट क्रूड के नवंबर डिलीवरी अनुबंध में 0.33 फीसदी की तेजी के साथ 61.14 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था. वहीं, न्यूयॉर्क मर्केंटाइल एक्सचेंज यानी नायमैक्स पर अमेरिकी लाइट क्रूड डब्ल्यूटीआई के अक्टूबर डिलीवरी अनुबंध में 0.65 फीसदी की तेजी के साथ 56.11 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था.

फसल खराब होने की आशंका से प्याज महंगा, बाजार में दाम 30 से 50 रुपये प्रति किलो

अमेरिका में कच्चे तेल का भंडार लगातार चौथे सप्ताह घटा
अमेरिका में कच्चे तेल का भंडार लगातार चौथे सप्ताह घटा है. अमेरिकी एजेंसी एनर्जी इन्फोरमेशन एडमिनिस्ट्रेशन यानी ईआईए की रिपोर्ट के अनुसार, छह सितंबर को समाप्त हुए सप्ताह में कच्चे तेल के भंडार में 69 लाख बैरल की कमी आई. ईआईए के अनुसार, अमेरिका में कच्चे तेल का भंडार 41.61 करोड़ बैरल रिकॉर्ड किया गया जो कि अक्टूबर 2018 के बाद का सबसे निचला स्तर है.