नई दिल्ली: पेट्रोलियम कंपनियों ने रविवार को पेट्रोल के दाम में 22 पैसे की कटौती की, जिससे पेट्रोल 2018 में सबसे निम्न स्तर पर आ गया है, जबकि डीजल की कीमतें 23 पैसे कम होकर 9 महीने के निम्नतम स्तर पर आ गई हैं. पेट्रोलियम कंपनियों की सूचना के मुताबिक, दिल्ली में पेट्रोल 69.26 रुपए से घटकर 69.04 रुपए प्रति लीटर, जबकि डीजल 63.32 रुपए से 63.09 रुपए प्रति लीटर पर आ गया है. सिर्फ एक दिन को छोड़कर पेट्रोल की कीमतों में 18 अक्टूबर से लगातार गिरावट जारी है और अब यह 2018 के सबसे निम्न स्तर पर आ गया है. डीजल मार्च के बाद निम्नतम स्तर पर है. पेट्रोल 18 अक्टूबर से लेकर अब तक 13.79 रुपए सस्ता हुआ, जबकि इन ढाई महीनों में डीजल 12.06 रुपए गिरा है.

ये था पेट्रोल और डीजल का सबसे उच्च स्तर का भाव
4 अक्टूबर को पेट्रोल दिल्ली में 84 रुपए प्रति लीटर और मुंबई में 91.34 रुपए प्रति लीटर के सर्वाधिक उच्च स्तर पर पहुंच गया था. इस दौरान, दिल्ली में डीजल 75.45 रुपये लीटर और मुंबई में 80.10 रुपये लीटर के उच्चतम स्तर पर था.

– ईंधन के दाम 16 अगस्त से बढ़ना शुरू हुए थे
– 16 अगस्त से चार अक्टूबर के बीच पेट्रोल 6.86 रुपए, जबकि डीजल 6.73 रुपए बढ़ा.

सरकार ने 4 अक्टूबर को पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में 1.50-1.50 रुपए की कटौती की थी और पेट्रोलियम का खुदरा काम करने वाली सरकारी कंपनियों को एक रुपए प्रति लीटर का बोझ वहन करने के लिए कहा था.
– पांच अक्टूबर को दिल्ली में पेट्रोल-डीजल में कीमतों में गिरावट आई
– हालांकि, अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में तेजी रहने से 17 अक्टूबर को दिल्ली में पेट्रोल 82.83 रुपए और डीजल 75.69 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया था.
– लेकिन इसके बाद कच्चे तेल के दाम गिरने और रुपए में सुधार से पेट्रोल-डीजल की खुदरा कीमतों में गिरावट रही

– ढाई महीने के दौरान, पेट्रोल सिर्फ एक दिन (18 दिसंबर को) 10 पैसे बढ़ा, जबकि डीजल 17 दिसंबर को 9 पैसे और 18 दिसंबर को 7 पैसे बढ़ा.
– उद्योग से जुड़े सूत्रों ने कहा कि अनुमान के मुताबिक, अगले कुछ दिनों में पेट्रोल और डीजल के खुदरा मूल्य में कुछ और गिरावट हो सकती है.