नई दिल्ली: पेट्रोल और डीजल के दाम में सोमवार को लगातार 12वें दिन कमी दर्ज की गई, लेकिन वैश्विक स्तर पर होने वाले बदलावों के चलते आने वाले दिनों में तेल का दाम दोबारा बढ़ सकता है. दरअसल, अमेरिका और चीन के बीच व्यापारिक तनाव कम होने से अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में जोरदार तेजी देखी जा रही है, जिसके कारण भारत में तेल का आयात महंगा हो जाएगा. अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में पांच फीसदी से ज्यादा की तेजी आई है.

एयर टिकट लेने से पहले हो जाएं सचेत, जेट एयरवेज के पास नहीं हैं पायलट, 14 उड़ानें रद्द

महानगरों में कीमत
दिल्ली में पेट्रोल का भाव 72 रुपये लीटर से कम हो गया है और डीजल भी 67 रुपये लीटर से कम भाव पर बिकने लगा है. कोलकाता में पेट्रोल का दाम 74 रुपये लीटर से कम हो गया है. मुंबई डीजल का भाव 71 रुपये लीटर से कम हो गया है. इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में सोमवार को पेट्रोल के भाव क्रमश: 71.93 रुपये, 73.96 रुपये, 77.50 रुपये और 74.63 रुपये प्रति लीटर दर्ज किए गए.

अब Whats App से भी कर सकेंगे मनी ट्रांसफर, कंपनी ने आरबीआई से मांगी परमीशन

क्रूड ऑयल की बढीं कीमतें
चारों महानगरों में डीजल की कीमतें क्रमश: 66.66 रुपये, 68.39 रुपये, 69.77 रुपये और 70.38 रुपये प्रति लीटर दर्ज की गईं. तेल विपणन कंपनियों ने सोमवार को दिल्ली और मुंबई में पेट्रोल के भाव में 30 पैसे प्रति लीटर की कटौती की, जबकि कोलकाता में पेट्रोल के दाम में 29 पैसे और चेन्नई में 31 पैसे प्रति लीटर की कटौती की गई. दिल्ली और कोलकाता में डीजल के दाम में 36 पैसे, जबकि मुंबई 38 पैसे और चेन्नई में 39 पैसे प्रति लीटर की कटौती की गई. अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार आईसीई पर ब्रेंट क्रूड के फरवरी वायदा अनुबंध में सोमवार को 5.13 फीसदी की तेजी के साथ 62.51 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था. वहीं, नायमैक्स पर डब्ल्यूटीआई के जनवरी डिलीवरी अनुबंध में 5.48 फीसदी की तेजी के साथ 53.72 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था. (इनपुट एजेंसी)