नई दिल्ली: पेट्रोल और डीजल की कीमतें सोमवार को एक नए रिकॉर्ड पर पहुंच गई. वैश्विक बाजार में कच्चे तेल के बढ़ते दाम और रुपये में गिरावट से ईंधन की कीमतों में तेजी बनी हुई है. सरकारी ईंधन विपणन कंपनियों द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार सोमवार को को दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 23 पैसे और डीजल की 22 पैसे प्रति लीटर बढ़ गई. दिल्ली में सोमवार को पेट्रोल की कीमत 80.73 रुपये और डीजल की कीमत 72.83 रुपये प्रति लीटर हो गई. यह ईंधन की कीमत का नया उच्च स्तर है. वहीं मुंबई में पेट्रोल 88.12 रुपए प्रति लीटर और डीजल 77.32 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है.

वहीं रविवार को दिल्ली में पेट्रोल 80.50 रुपये प्रति लीटर था. वहीं डीजल 72.61 रुपये प्रति लीटर रहा. मुंबई में रविवार को पेट्रोल 87.89 रुपये प्रति लीटर और डीजल 77.09 रुपये प्रति लीटर रहा. शनिवार को दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 80.38 प्रति लीटर हो गई थी, जबकि डीजल 72.51 प्रति लीटर पहुंच गया था.

सभी मेट्रो शहरों और अधिकतर राज्यों की राजधानी के मुकाबले दिल्ली में ईंधन की कीमत सबसे कम है. ईंधन की कीमतों में लगातार वृद्धि के विरोध में विपक्षी दलों ने आज ‘भारत बंद’ का ऐलान किया है. उनका आरोप है कि ईंधन के महंगे होने के बावजूद सरकार उत्पाद शुल्क में कटौती नहीं कर रही है और इसका सारा बोझ आम जनता के कंधों पर डाल रही है.

अगस्त के मध्य से अब तक पेट्रोल 3.75 रुपये प्रति लीटर और डीजल 4.06 रुपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है. इसकी अहम वजह डॉलर के मुकाबले रुपये का रिकॉर्ड निचले स्तर पर चले जाना है जिससे कच्चे तेल का आयात महंगा हुआ है.

वहीं केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान का कहना है कि एक मजबूत अर्थव्यवस्था वाले भारत को पेट्रोल-डीजल में भारी उछाल पर बिना गहराई से सोचे झटके में कोई निर्णय करने से बचाना चाहिए. मंत्री की बातों से लगा कि सरकार फिलहाल डीजल पेट्रोल पर कर में कोई कटौती करने के मूड में नहीं है.