नई दिल्ली: दिल्ली में चुनाव से ठीक पहले तीन दिनों में पेट्रोल 85 पैसे प्रति लीटर सस्ता हो गया है और डीजल के भी दाम 38 पैसे प्रति लीटर घट गए हैं. पेट्रोल और डीजल के दाम में शनिवार को लगातार तीसरे दिन गिरावट दर्ज की गई. दिल्ली और मुंबई में पेट्रोल फिर 48 पैसे लीटर सस्ता हो गया है और कोलकाता में पेट्रोल के दाम 47 पैसे जबकि चेन्नई में 50 पैसे प्रति लीटर घट गए हैं. तेल विपणन कंपनियों ने दिल्ली और कोलकाता में पेट्रोल के दाम में 19 पैसे, जबकि चेन्नई में 20 पैसे प्रति लीटर की कटौती की है.

लोकसभा चुनाव के छठे चरण में दिल्ली की सात सीटों समेत देश के सात राज्यों की 59 लोकसभा सीटों पर रविवार को मतदान है. इससे पहले पेट्रोल के दाम में शनिवार को इस साल की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई है. उर्जा विशेषज्ञ बताते हैं कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में पिछले दिनों तेल के दाम में आई गिरावट के कारण पेट्रोल और डीजल के दाम में कमी की गई है. हालांकि उनका यह भी मानना है कि पेट्रोल और डीजल की कीमत निर्धारण में कई और कारकों को ध्यान में रखा जाता है.

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली कोलकता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के भाव घटकर क्रमश: 72.72 रुपए, 74.21 रुपये, 77.75 रुपए और 74.90 रुपए प्रति लीटर हो गए हैं. वहीं, चारों महानगरों में डीजल के भाव घटकर क्रमश: 66.28 रुपए, 68.04 रुपए, 69.45 रुपए और 70.06 रुपए प्रति लीटर हो गए हैं.

पेट्रोल और डीजल के दाम में शनिवार को लगातार तीसरे दिन गिरावट दर्ज की गई. दिल्ली और मुंबई में पेट्रोल फिर 48 पैसे प्रति लीटर सस्ता हो गया है और कोलकाता में पेट्रोल के दाम 47 पैसे जबकि चेन्नई में 50 पैसे प्रति लीटर घट गए हैं.

तेल विपणन कंपनियों ने दिल्ली और कोलकाता में पेट्रोल के दाम में 19 पैसे जबकि चेन्नई में 20 पैसे प्रति लीटर की कटौती की है.

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली कोलकता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के भाव घटकर क्रमश: 72.72 रुपए, 74.21 रुपए, 77.75 रुपए और 74.90 रुपए प्रति लीटर हो गए हैं. वहीं, चारों महानगरों में डीजल के भाव घटकर क्रमश: 66.28 रुपए, 68.04 रुपए, 69.45 रुपए और 70.06 रुपए प्रति लीटर हो गए हैं.

अंतरराष्‍ट्रीय वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज यानी आईसीई पर शुक्रवार को ब्रेंट क्रूड का जुलाई अनुबंध पिछले सत्र से 0.58 फीसदी की बढ़त के साथ 70.80 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ. एंजेल ब्रोकिंग के इनर्जी व करेंसी रिसर्च मामलों के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट अनुज गुप्ता ने कहा कि पिछले दिनों अंतर्राष्ट्रीय बाजार में तेल के दाम में भारी उतार-चढ़ाव रहा है जिसका असर भारत में पेट्रोल और डीजल के दाम पर भी सीधे तौर पर देखा जाता है, लेकिन तेल कंपनियां कीमत निर्धारण में कई और कारकों को ध्यान में रखती हैं. अंतर्राष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड का भाव अभी भी 70 डॉलर प्रति बैरल से उपर बना हुआ है इसलिए आगे तेल के दाम में राहत की गुंजाइश कम है.