PF News: श्रम मंत्रालय ने वित्त मंत्रालय की सहमति मिलने के बाद 6 करोड़ से अधिक खाताधारकों वाले सेवानिवृत्ति कोष कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) पर 2019-20 के लिए 8.5% ब्याज दर को अधिसूचित करने का फैसला किया है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘श्रम मंत्रालय ने कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) के 6 करोड़ से अधिक खाताधारकों के खाते में जमा करने के लिए 8.5 प्रतिशत की ब्याज दर को अधिसूचित करने का फैसला किया है.’ अधिकारी ने कहा कि वित्त मंत्रालय की सहमति मिलने के बाद EPF पर ब्याज की दर को श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने गुरुवार को अधिसूचना के लिए औपचारिक मंजूरी दी.Also Read - EPFO: आधार के अनुसार नाम और जन्मतिथि बदलना चाहते हैं, तो अपनाएं यह प्रक्रिया, जानें- कौन से दस्तावेज हैं जरूरी?

अब सरकारी गजट में ब्याज दर को आधिकारिक रूप से अधिसूचित किया जाएगा, जिसके बाद EPFO मुख्यालय खाताधारकों के खातों में ब्याज जमा करने के लिए निर्देश देगा. इस साल मार्च में ईपीएफओ ​​के निर्णय लेने वाले सर्वोच्च निकाय सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज ने गंगवार की अध्यक्षता में 2019-20 के लिए ईपीएफ पर 8.5 प्रतिशत ब्याज दर को मंजूरी दी थी. Also Read - EPFO Latest News: ईपीएफओ सब्सक्राइबर्स के खाते में दिवाली से पहले ट्रांसफर होगी रकम, फटाफट पढ़ें पूरा डिटेल

इस साल सितंबर में EPFO ने गंगवार की अध्यक्षता में अपने ट्रस्टियों की बैठक में 8.5 प्रतिशत ब्याज को 8.15 प्रतिशत और 0.35 प्रतिशत की दो किस्तों में विभाजित करने का फैसला किया था. हालांकि, बाद में मंत्रालय ने एक बार में ही पूरे 8.5 प्रतिशत अंशदान को खाताधारकों के खातों में डालने का फैसला किया. Also Read - EPFO Update: अगर भूल गए हैं UAN नंबर, तो कैसे ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं, जानें- स्टेप-बाय-प तरीका

(इनपुट: भाषा)