PM Kisan Samman: क्या आप किसान सम्मान स्कीम (PM Kisan Samman Scheme) का लाभ लेते हैं? अगर नहीं लाभ मिलता है तो 30 जून तक अपना नाम वेबसाइट पर रजिस्टर कर लें. रजिस्ट्रेशन करने के बाद आपको एक साथ दो किस्तों का भुगतान मिलेगा. अगस्त माह में तीसरी किस्त का भुगतान किया जाएगा. इसके साथ, आपने किसान क्रेडिट कार्ड से लोन लिया है तो उसका भी भुगातन 30 जून तक करने पर कोई पेनाल्टी नहीं देनी पड़ेगी. इसलिए, दोनों ही अंतिम तारीखें साथ-साथ आई हैं. इस योजना के तहत कोविड महामारी के दौरान 2,000 रुपये की वित्तीय सहायता भी करोड़ों लोगों को इस स्कीम के तहत मिली है.Also Read - PM Kisan Samman Update: इस राज्य के 9.5 लाख किसानों को नहीं मिलेगी पीएम किसान सम्मान की 9वीं किस्त, जानें अपडेट

पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ कैसे लें? Also Read - PM Kisan: 9 अगस्त तक किसानों के खाते में आ जाएंगे पैसे, क्या आपके खाते में दिख रहा है RFT या FTO स्टेटस, जानें क्या है यह

अगर आप पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम का लाभ लेना चाहते हैं तो राज्य सरकार द्वारा नामित किए गए नोडल अधिकारी या पटवारी के माध्यम से आप आवेदन कर सकते हैं. इसके अलावा, आप कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर इसका आवेदन ऑनलाइन कर सकते हैं. इसके अतिरिक्त, आप पीएम किसान पोर्टल पर जाकर स्वयं ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. Also Read - PM Kisan: 9 अगस्त तक किसानों के खाते में आएगी 9वीं किश्त, जानें कैसे करें ऑनलाइन आवेदन

स्वयं कर सकते हैं ऑनलाइन आवेदन

  1. पीएम किसान की वेबसाइट http://pmkisan.gov.in/ पर जाएं.
  2. वहां पर आपको एक विकल्प फॉर्मर्स कॉर्नर मिलेगा.
  3. इसमें नये किसान के तौर पर रजिस्ट्रेशन करने का विकल्प मिलेगा.
  4. न्यू फॉर्मर रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक करें.
  5. इसके बाद एक पेज खुलेगा, जिसमें आपको अपना आधार नंबर और कैप्चा भरना होगा.
  6. आधार संख्या भरने के बाद कुछ निजी जानकारी भी भरनी होगी.
  7. उस जमीन के बारे में भी जानकारी भरनी होगी जो आपके नाम पर है.
  8. अंत में सबमिट बटन पर क्लिक करें.

आत्म निर्भर योजना

सरकार ने किसानों को पीएम किसान आत्म निर्भर योजना के तहत किसान क्रेडिट कार्ड जारी किया है. इस कार्ड पर आसानी से और सस्ता लोन मिल जाता है. लोन का पेमेंट तय समय के अंदर भरना होता है.

लोन पुनर्भुगतान

लोन के पुनर्भुगतान पर 3 प्रतिशत से ज्यादा ब्याज नहीं देना होता है. किसान क्रेडिट कार्ड का पैसा तय समय पर ब्याज सहित लौटाना पड़ता है. अगर समय पर भुगतान नहीं किया गया तो बैंक 4 प्रतिशत के बजाय 7 प्रतिशत की दर से ब्याज लेता है. चूंकि इस साल इसकी समय सीमा बढ़ा दी गई है जिससे किसानों को थोड़ी राहत मिली है.

कोरोना के कारण सरकार ने दी राहत

पिछले साल कोरोना के कारण सरकार ने किसानों को राहत देते हुए किसान क्रेडिट कार्ड पर लिए गए लोन के पुनर्भुगतान की समय सीमा बढ़ा दी है. पहले इसको 31 मार्च 2020 से बढ़ाकर 31 मई 2020 किया गया. इसके बाद फिर से बढ़ाकर 31 अगस्त कर दिया गया. इस साल 2021 में भी सरकार ने लोन मौरैटोरियम के तहत 3 माह तक समय सीमा बढ़ा दी है. इस तरह से अब सभी लोगों को 30 जून तक लोन जमा करना होगा.

किसान क्रेडिट कार्ड पर मिलता है 3 लाख तक लोन

किसान को किसान क्रेडिट कार्ड पर 3 लाख रुपये तक का लोन दिया जाता है. इस लोन पर 9 प्रतिशत की दर से ब्याज लगता है. लेकिन इस लोन पर सरकार 2 प्रतिशत की सब्सिडी देती है. इस तरह से किसानों को केवल 7 प्रतिशत की दर से ब्याज देना होता है. अगर किसान समय से पहले लोन जमा करने जाता है तो उसे 3 प्रतिशत का रिबेट दिया जाता है. इस तरह से ब्याज केवल 4 प्रतिशत ही जमा करना पड़ता है.

जानिए- कौन-कौन से बैंक जारी करते हैं किसान क्रेडिट कार्ड?

जो किसान केसीसी के लिए आवेदन करना चाहते हैं वे को-ऑपरेटिव बैंक पर जा सकते हैं. क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक भी इसके लिए अधिकृत किए गए हैं. नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ इंडिया और इंडस्ट्रिय डेवलपमेंट बैंक ऑफ इंडिया भी केसीसी जारी करता है.