PM Kisan Samman Nidhi Yojana Budget cuts in Union Budget 2021: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के बजट में सरकार की आय बढ़ाने पर खूब जोर दिया गया है. इसके साथ ही उन्होंने कई योजनाओं में कटौती भी की है. इसी में से एक योजना है किसान सम्मान निधि योजना. इस योजना के तहत केंद्र सरकार देश के किसानों को हर साल 6 हजार रुपये की सहायता देती है. ये राशि सीधे किसानों के खाते में दो-दो हजार रुपये की किस्त में भेजी जाती है. Also Read - PM Kisan Samman Nidhi Yojana Update: अमित शाह ने कहा- सरकार बनते ही किसानों के खाते में भेजेंगे 18 हजार रुपये

दरअसल, अगले वित्त वर्ष के लिए पेश आम बजट में वित्त मंत्री ने अगले वित्त वर्ष यानी 2021-22 के लिए PM Kisan Samman Nidhi Yojana के लिए 65 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान किया है. जबकि मौजूदा वित्त वर्ष के बजट में इस मद के लिए 75 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया था. लेकिन संशोधित अनुमान में इसे घटाकर 65 हजार करोड़ रुपये कर दिया गया था क्योंकि कृषि मंत्रालय पूरे आवंटित धन को खर्च नहीं कर पाया था. इस तरह देखें तो वित्त मंत्री ने इस चालू वित्त वर्ष में किसान सम्मान निधि पर जितनी राशि खर्च की गई उतनी ही राशि इस मद में अगले वित्त वर्ष के लिए दी गई है. Also Read - PM Kisan Samman Nidhi Yojana: होली के आसपास आएगी आठवीं किस्त, उसके पहले करें यह काम, वर्ना अब नहीं मिलेगा लाभ

दरअसल, चालू वित्त वर्ष में कृषि मंत्रालय ने पूरा बजट खर्च नहीं कर पाया है. इस कारण इसके बजट में कटौती की गई है. कृषि मंत्रालय में दो विभाग आते हैं. पहला विभाग है- कृषि, कोऑपरेशन और किसान कल्याण जबकि दूसरे विभाग का नाम है डिपार्टमेंट ऑफ एग्रिकल्चर रिसर्च और एजुकेशन. इन दोनों विभागों के लिए बजट में 131,531.19 करोड़ रुपये का प्रावधान है, जबकि मौजूदा वित्त वर्ष में इसके लिए 142,762.35 करोड़ रुपये दिए गए थे. हालांकि इस साल मंत्रालय यह पूरा पैसा खर्च नहीं कर पाया. इसका संशोधित बजट खर्च 124,520.3 करोड़ रुपये रहा. इस तरह से देखा जाए तो सरकार ने इस साल के बजट में वास्तविक खर्च से बजट आवंटन को थोड़ा ज्यादा ही रखा है. Also Read - Income Tax: 1 अप्रैल से बदल जाएंगे Income Tax और TDS से जुड़े ये पांच नियम, जिन्हें जानना आपके लिए है जरूरी