PM Kisan Samman Nidhi Yojana: अगर आप प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के तहत साल भर में 6,000 रुपये पाना चाहते हैं, तो आपको सम्मान निधि पाने के लिए रजिस्ट्रेशन कराना पड़ता है. जिसके लिए पहले आपको पीएम किसान (PM Kisan) स्कीम के पोर्टल या फिर PM Kisan App के जरिए इस ऐप पर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. हालांकि, रजिस्ट्रेशन के बाद आप यह पाते हैं कि रजिस्ट्रेशन फॉर्म में किसी तरह की चूक या गलती हो गई है तो आप मिनटों में घर बैठे उसमें सुधार कर सकते हैं.Also Read - PM Kisan Samman Nidhi की 11वीं किस्त जल्द आने की संभावना, क्या किसानों के लिए eKYC हो गया है अनिवार्य?

जानें- किस तरह से करें गलती में सुधार Also Read - PM KISAN 11TH INSTALLMENT UPDATE: eKYC के लिए बढ़ाई गई अंतिम तारीख, जानें- स्टेप-बाय-स्टेप प्रक्रिया?

  • PM Kisan की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाइए.
  • यहां आपको दाहिनी ओर ‘Farmers Corner’ मिलेगा.
  • इस सेक्शन में ‘Updation of Self Registered Farmer’ के ऑप्शन पर क्लिक कीजिए.
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा.
  • यहां आपको आधार नंबर और कैप्चा कोड डालना होगा.
  • इसके बाद सर्च बटन पर क्लिक कीजिए.

अगर आपके द्वारा दी गई जानकारी सही पाई जाती है, तो आपके सामने पीएम किसान स्कीम के लिए आपके द्वारा भरा गया रजिस्ट्रेशन फॉर्म आ जाएगा. Also Read - PM KISAN SAMMAN NIDHI: पीएम किसान सम्मान निधि की 11वीं किस्त पाने के लिए कैसे करें ऑनलाइन eKYC, जानें- यहां

  • इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में आप आधार नंबर को छोड़कर अन्य प्रमुख विवरण में संशोधन कर सकते हैं.
  • संशोधन के बाद फॉर्म को सबमिट कर दीजिए.

जानें- PM Kisan की वेबसाइट से कैस चेक करें आवेदन की स्थिति

  • वेबसाइट पर ‘Farmers Corner’ को खोलिए.
  • यहां Status of Self Registered/CSC Farmers के ऑप्शन पर क्लिक कीजिए.
  • अब आधार नंबर के साथ कैप्चा कोड डालकर सर्च पर क्लिक कीजिए.
  • आपके सामने आवेदन की स्थिति से जुड़ी सभी तरह की जानकारी होगी.

बता दें, पीएम किसान (PM Kisan) केंद्र सरकार की काफी महत्वाकांक्षी योजना है. इस स्कीम के तहत सरकार लाभार्थी किसानों के बैंक खातों में तीन बराबर किस्तों में हर साल 6,000 रुपये की रकम भेजती है. इस स्कीम के तहत सरकार अब तक कुल सात इंस्टॉलमेंट किसानों के खातों में भेज चुकी है.

गौरतलब है कि सरकार अप्रैल से जुलाई के बीच पहली, अगस्त से नवंबर के बीच दूसरी और दिसंबर से मार्च के बीच तीसरी किस्त भेजती है. इस स्कीम के लाभार्थियों किसानों को चालू वित्त वर्ष का पहला इंस्टॉलमेंट अभी नहीं मिला है और सरकार किसी भी वक्त पहली किस्त रिलीज कर सकती है.