PMGKAY Scheme: प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के खत्म होने में महज चार दिन शेष हैं. कोरोना वायरस महामारी के दौरान मार्च महीने में सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के हिस्से के रूप में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की घोषणा की थी. इसमें 80 करोड़ राशन कार्ड होल्डर्स को फ्री में अनाज मुहैया कराया जा रहा था, अब यह योजना 30 नवंबर को खत्म हो जाएगी.Also Read - पहरेदारी में होगी 20 लाख रुपये की निकासी, बैंक में पैन या आधार देना होगा अनिवार्य

अगर किसी ने इस योजना का फायदा नहीं उठाया है तो महज चार दिन शेष हैं. आप इसका फायदा उठा सकते हैं. अब सरकार इसे आगे नहीं बढ़ाएगी. इस योजना में एक परिवार को 5 किलो गेहूं या चावल और एक किलो चना देने का प्रावधान है. यह मुफ्त में मिलने वाला 5 किलो अनाज, नियमित रूप से राशन कार्ड पर मिलने वाले अनाज के मौजूदा कोटे के अलावा है. इसे (प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना) का विस्तार दिवाली और छठ पूजा तक बढ़ा दिया गया था. यानी इस योजना का लाभ 30 नवंबर 2020 तक ही लिया जा सकता है. इसके बाद यह योजना समाप्त की जा रही है. Also Read - आधार कार्ड नियम: आधार कार्ड में कितनी बार बदल सकते हैं नाम और पता, जानिए - क्या हैं UIDAI के नियम

केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक मंत्रालय के तहत खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण विभाग के सूत्रों के हवाले से यह पता चला है कि इस योजना को अब 30 नवंबर के बाद बढ़ाने का कोई विचार नहीं है. Also Read - Ration Card New Rule: राशन कार्ड धारक हो जाएं सावधान, नए नियम को अच्छी तरह जान लें, कर दें सरेंडर, नहीं तो...

बता दें, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत अनाज लेने के लिए आपको राशन कार्ड की जरूरत नहीं है. इस योजना के तहत जरूरतमंदों को राशन मिल जाता है. लेकिन अपने आधार कार्ड के जरिए इस योजना के लिए रजिस्ट्रेशन कराना होता है. रजिस्ट्रेशन कराने पर उन्हें एक स्लिप दी जाती है. जिसे दिखाकर मुफ्त अनाज मिलता है.