नई दिल्ली: रिलायंस जियो ने 2020 के मध्य से नयी फिल्मों के आने के दिन ही अपने जियो फाइबर नेटवर्क पर उपलब्ध कराने की घोषणा की है. माना जा रहा है कि इससे सिनेमाघर बाजार में उथल-पुथल हो सकती है. हालांकि देश में मल्टीप्लेक्स परिचालन करने वाली पीवीआर और आईनॉक्स जैसी कंपनियों ने आने वाले वर्षों में भी सिनेमाघर कारोबार की वृद्धि में विश्वास जताया है.

देश की सबसे बड़ी मल्टीप्लेक्स कंपनी पीवीआर देशभर में 800 पर्दों पर फिल्म प्रदर्शन करती है. पीवीआर का कहना है कि सिनेमाघर में फिल्म देखने और घर पर फिल्म देखने का अनुभव अलग है और इसका अपना महत्व है. इसी तरह 600 पर्दों पर फिल्म प्रदर्शन करने वाली आईनॉक्स लीस्योर ने कहा कि देश में अभी फिल्म निर्माता, वितरक और मल्टीप्लेक्स मालिकों के बीच साझा सहमति है. इसके तहत फिल्म को सिनेमाघर में रिलीज किए जाने के बाद उसे आठ हफ्ते तक किसी अन्य माध्यम पर रिलीज नहीं किया जाता है. अत: सिनेमाघरों को आठ हफ्ते तक फिल्म प्रदर्शित करने का विशेष समय मिलता है.

रिलायंस Jio Giga Fiber अगले महीने इस दिन होगा लॉन्च, महज 700 रुपए में घर में महीनेभर चलेगा इंटरनेट

कंपनी ने शेयर बाजार को दी जानकारी में कहा कि किसी फिल्म का निर्माता उसका असल मालिक होता है. ऐसे में यह उसका अधिकार है कि वह वितरण के लिए किस मंच का उपयोग करता है. आईनॉक्स ने कहा कि सिनेमाघर में फिल्म प्रदर्शित करने के विशेष समय वाला मॉडल अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनाया जाता है. यह इस क्षेत्र में काम कर रहे सभी लोगों के लिए फायदेमंद है और भारत में इसी मॉडल को अपनाया गया है.

हालांकि इस साझा सहमति वाले मॉडल में निर्माता को सिनेमाघर या किसी अन्य माध्यम पर रिलीज करने में से चुनने का अधिकार है. लेकिन एक साथ दोनों तरह के मंच पर फिल्म रिलीज करना साझा सहमति का उल्लंघन होगा. पीवीआर ने भी शेयर बाजार को दी जानकारी में कहा कि सिनेमाघर और अन्य माध्यम पर फिल्म रिलीज करने का साझा सहमति वाला मॉडल दशकों से दोनों माध्यम की समृद्धि का कारक रहा है. इसलिए वह सिनेमाघर बाजार की वृद्धि को लेकर आश्वस्त है.