नयी दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने कथित धोखाधड़ी मामले में बृहस्पतिवार को फोर्टिस हेल्थकेयर के पूर्व प्रमोटर शिविन्दर सिंह और तीन अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. अधिकारियों ने कहा कि दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने आम जनता के पैसे का अपनी कंपनियों में कथित निवेश करने के लिये कवि अरोड़ा, सुनील गोधवानी और अनिल सक्सेना को भी गिरफ्तार किया है.

 

रेलिगेयर फिनवेस्ट लिमिटेड (आरएफएल) ने एक शिकायत में आरोप लगाया है कि सिंह के कंपनी का निदेशक रहते हुए कर्ज लिया गया लेकिन कर्ज ली गई धनराशि का अन्य कंपनियों में निवेश कर दिया गया. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि आरएफएल में प्रबंधन बदला. नए प्रबंधन ने जब कार्यभार संभाला तो उसने पाया कि एक बार कर्ज लिया गया और उस धनराशि का सिंह और उनके भाई से जुड़ी अन्य कंपनियों में निवेश कर दिया गया.

प्रबंधन ने आर्थिक अपराध शाखा में शिकायत की जिसके बाद प्राथमिकी दर्ज की गई. शिवेन्दर का भाई मालविन्दर फरार है और उसके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया गया है.