HDFC Bank News: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने एचडीएफसी बैंक की आगामी डिजिटल बिजनेस-जनरेटिंग गतिविधियों और नए क्रेडिट कार्ड ग्राहकों की सोर्सिंग के सभी लॉन्चों पर अस्थायी रूप से रोक लगा दी है. गुरुवार को निजी क्षेत्र के ऋणदाता बैंक ने इसकी जानकारी दी. पिछले महीने बैंक के डेटा सेंटर में आई दिकक्तों की वजह से हुआ जिससे परिचालन प्रभावित हुआ.Also Read - Big Banking Alert: 1 जनवरी से बढ़ जाएगी ATM निकासी फीस, जानें क्या होंगी नई दरें

इसके अलावा, RBI के आदेश में बैंक बोर्ड को निर्देश दिए गया है कि वह लैप्स की जांच करे और जवाबदेही तय करे. Also Read - Cryptocurrency Bill 2021: कैबिनेट की मंजूरी के बाद संसद में आएगा क्रिप्टो बिल: वित्त मंत्री

“RBI ने एचडीएफसी बैंक को 2 दिसंबर, 2020 को एक आदेश जारी किया, जिसमें पिछले दो वर्षों में बैंक की इंटरनेट बैंकिंग/ मोबाइल बैंकिंग/भुगतान उपयोगिताओं की कुछ घटनाओं से संबंधित है. जिसमें बैंक के इंटरनेट में हालिया रुकावट भी शामिल है. Also Read - सस्ते में सोना खरीदने का आखिरी मौका, आज से ओपन हो रहा है SGB का सब्सक्रिप्शन; जानें इससे जुड़ी महत्वपूर्ण बातें

एचडीएफसी बैंक ने कहा कि आरबीआई के आदेश में बैंक को सलाह दी गई है कि वह अपने कार्यक्रम डिजिटल 2.0 और अन्य प्रस्तावित व्यवसाय आईटी अनुप्रयोगों और नए क्रेडिट कार्ड ग्राहकों की सोर्सिंग के तहत नियोजित डिजिटल व्यापार-निर्माण गतिविधियों के सभी लॉन्चों को अस्थायी रूप से रोक दे.

बैंक ने कहा कि उपरोक्त उपायों को आरबीआई द्वारा पहचानी गई प्रमुख महत्वपूर्ण टिप्पणियों के साथ संतोषजनक अनुपालन के लिए उठाने पर विचार किया जाएगा.

एचडीएफसी बैंक ने कहा कि पिछले दो वर्षों में, उसने अपने आईटी सिस्टम को मजबूत करने के लिए कई उपाय किए हैं और शेष काम को बंद करने के लिए तेजी से काम करना जारी रखेगा और इस संबंध में नियामक के साथ जुड़ना जारी रखेगा.