मुंबई: भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने आम आदमी को राहत देते हुए आरटीजीएस के जरिए पैसे भेजने का समय डेढ घंटे बढ़ाकर शाम 6 बजे तक कर दिया है. यह व्यवस्था एक जून से प्रभावी होगी. आरबीआई ने मंगलवार को यह जानकारी दी. फिलहाल आरटीजीएस के जरिए शाम साढ़े चार बजे तक ही धन अंतरण की सुविधा है.Also Read - Bank holidays in October: इस हफ्ते 5 दिन बंद रहेंगे बैंक, घर से निकलने से पहले यहां देखें छुट्टियों की पूरी लिस्ट

Also Read - RBI imposed fine on SBI: स्टेट बैंक पर RBI ने लगाया 1 करोड़ रुपये का जुर्माना, जानिए- क्या है पूरा मामला?

Also Read - RBI Latest News: आरबीआई ने एनबीएफसी पर निर्देशों को न मानने वाले लेखा परीक्षक को किया प्रतिबंधित

रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (आरटीजीएस) व्यवस्था के तहत, पूंजी हस्तांतरण का काम तुरंत-तुरंत होता है. आरटीजीएस का उपयोग मुख्यत: बड़ी राशि के हस्तांतरण के लिए होता है. इसके तहत न्यूनतम 2 लाख रुपये भेजे जा सकते हैं और अधिकतम राशि भेजने की कोई सीमा नहीं है. आरबीआई ने अधिसूचना में कहा कि उसने आरटीजीएस में ग्राहक लेनदेन के लिए समय को शाम साढे चार बजे से बढ़ाकर 6 बजे करने का फैसला किया है.

हो जाइए तैयार! पेट्रोल-डीजल के दाम में 5 रुपये प्रति लीटर तक की बढ़ोतरी संभव

एक जून से मिलेगी यह सुविधा

आरटीजीएस के तहत यह सुविधा एक जून से मिलेगी. आरटीजीएस के अलावा, पैसे एक खाते से दूसरे खाते में भेजने का एक अन्य लोकप्रिय माध्यम नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (एनईएफटी) है. इसमें हस्तांतरण के लिए न्यूनतम और अधिकतम पैसे की सीमा नहीं है.