भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने लखनऊ के इंडियन मर्केंटाइल कोऑपरेटिव बैंक लिमिटेड (Indian Mercantile Cooperative Bank Ltd) पर एक लाख रुपये की निकासी सीमा समेत कई प्रतिबंध लगा दिए हैं. RBI के अनुसार ये प्रतिबंध 28 जनवरी, 2022 (शुक्रवार) को व्यावसायिक समय के बाद से प्रभावी हो गए हैं. आरबीआई ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि लखनऊ स्थित सहकारी बैंक बिना उसकी मंजूरी के कोई ऋण, अग्रिम प्रदान या नवीनीकृत जारी नहीं करेगा और न ही कोई निवेश नहीं कर सकेगा.Also Read - RBI Grade B 2022 admit card : आरबीआई ग्रेड बी की फेज-1 परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी, ऐसे करें डाउनलोड

RBI ने कहा, ‘बैंक के किसी जमाकर्ता को बचत, चालू या अन्य खातों में मौजूद कुल शेष राशि में से एक लाख रुपये से अधिक की राशि को निकालने की अनुमति नहीं दी जायेगी.’ हालांकि केंद्रीय बैंक ने कहा कि इन निषेधात्मक निर्देशों को आरबीआई द्वारा बैंकिंग लाइसेंस को रद्द करने के रूप में नहीं देखा जाना चाहिए. Also Read - ब्याज दर में बढ़ोतरी के बावजूद महंगाई पर काबू पाने में समय लगेगा, अप्रैल में 7.79 फीसदी रही महंगाई दर

(इनपुट: भाषा) Also Read - आरबीआई ने जारी किया अलर्ट, जालसाजों के जाल में न फंसें, रहें सावधान; नहीं तो उठाना पड़ेगा भारी नुकसान