मुंबई: अनिल अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर (आरइन्फ्रा) ने बुधवार को उनके दोनों बेटों अनमोल (27) और अन्शुल (24) को निदेशक के तौर पर कंपनी के बोर्ड में शामिल किया. कंपनी ने बोर्ड में स्वतंत्र निदेशक के रूप में लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) सैयद अता हसनैन को भी नियुक्त किया है. यह जानकारी बुधवार को कंपनी ने बयान जारी कर दी.

अनमोल रिलायंस कैपिटल में कार्यकारी निदेशक रहे हैं और अगस्त 2016 में इसके बोर्ड में शामिल होने के बाद से वित्तीय सेवाओं के कारोबार की देखरेख कर रहे हैं. अन्शुल इस साल जनवरी में कंपनी से जुड़े और रिलायंस इंफ्रा के सभी अभियानों में सक्रिय रूप से शामिल रहे हैं, जिसमें रक्षा व्यवसाय पर विशेष ध्यान दिया गया है. वह समूह के अध्यक्ष और कार्यकारी निदेशक और सीईओ पुनीत गर्ग के साथ काम कर रहे हैं. जुलाई-2019 तक समूह की चार कंपनियों पर 93 हजार करोड़ रुपये का कर्ज है. यह दिवालिया हो चुकी दूरसंचार कंपनी से अलग है.

रिलायंस Jio पर फ्री कॉलिंग की सुविधा बंद, दूसरे नेटवर्क पर बात करने को देने होंगे इतने पैसे

कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि हाल में संपन्न वार्षिक आम बैठक में शेयर धारकों की ओर से जताई गई इच्छा के अनुरूप अनमोल और अन्शुल को कंपनी के बोर्ड में लाने का फैसला किया गया. शेयरधारकों ने प्रबंधन से कंपनी के बोर्ड में इनके जरिये युवा पीढ़ी को मौका देने की मांग की थी. हाल में हुई वार्षिक आम बैठक में अंबानी ने 25 हजार करोड़ रुपये जुटाने के दिसंबर तक रिलायंस कैपिटल की दो कर्ज देने वाली कंपनियों रियालयं कमर्शियल फाइनेंस और रिलायंस होम फाइनेंस को बंद करने की घोषणा की थी.