RBI restricts Withdrawals From This Bank: नियमों में लापरवाही को लेकर भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) का डंडा एक और को-ऑपरेटिव बैंक (Co-operative Bank) पर चला है. RBI की तरफ से जारी रोक के बाद अब बैंक के खाताधारक अपना पैसा नहीं निकाल सकते हैं. यह रोक शुरुआत में 6 महीने के लिए लगाई गई है. भारतीय बैंक ने जिस बैंक से निकासी पर रोक लगाई है वह नासिक स्थित इंडिपेन्डेन्स को-ऑपरेटिव बैंक लिमटेड (Independence Co-operative Bank) है.Also Read - RBI​ ​Recruitment​ ​2022: आरबीआई ने इन पदों पर निकाली वैकेंसी, आवेदन की अंतिम तारीख नजदीक

RBI ने एक बयान में कहा कि हालांकि बैंक के 99.88 प्रतिशत जमाकर्ता पूर्ण रूप से ‘डिपोजिट इंश्योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन’ (डीआईसीजीसी) बीमा योजना के दायरे में हैं. बीमा योजना के तहत बैंक का प्रत्येक जमाकर्ता अपनी 5 लाख रुपये तक की जमा राशि पर जमा बीमा दावा रकम डीआईसीसी से प्राप्त करने का हकदार है. निकसी पर पाबंदी 6 महीने की अवधि के लिए होगी. Also Read - Mumbai Fire: मुंबई में भाटिया हॉस्पिटल के पास 20 मंजिला इमारत में भीषण आग, 6 की मौत, 28 घायल

केंद्रीय बैंक ने कहा, ‘बैंक की मौजूदा नकदी की स्थिति को देखते हुए, जमाकर्ताओं को बचत या चालू खाता अथवा अन्य किसी भी खाते से जमा राशि में से कोई भी रकम निकालने की अनुमति नहीं होगी. ग्राहक जमा के एवज में कर्ज का निपटान कर सकते हैं जो कुछ शर्तों पर निर्भर है.’ RBI ने बुधवार को कारोबारी समय समाप्त होने के बाद और भी कुछ पाबंदियां लगाई हैं. Also Read - Mumbai Local Train Latest News: मुंबई में 14 घंटे तक नहीं चलेंगी लंबी दूरी की लोकल ट्रेनें, जानिए क्या है वजह

इसके तहत बैंक के मुख्य कार्यपालक अधिकारी RBI की पूर्व मंजूरी के बिना कोई भी कर्ज नहीं देंगे या नवीनीकरण नहीं करेंगे. इसके अलावा वे कोई निवेश भी नहीं करेंगे और न ही कोई भुगतान करेंगे. आरबीआई के अनुसार बैंक पाबंदियों के साथ अपना बैंकिंग कारोबार पहले की तरह करता रहेगा। यह पाबंदी वित्तीय स्थिति में सुधार तक रहेगी. केंद्रीय बैंक ने यह भी कहा कि वह परिस्थिति के हिसाब से निर्देशों में संशोधन कर सकता है.

(इनपुट: एजेंसी)