Route Mobile: क्लाउंड कम्युनिकेशन सर्विसेज प्रोवाइडर रूट मोबाइल साल 2020 की नई कंपनियों में सबसे बड़ा मल्टीबैगर के तौर पर उभरा है. रूट मोबाइल का शेयर आज के कारोबार में रिकॉर्ड ऊंचाई पर पर पहुंच गया. आज इस कंपनी के शेयरों में 6 फीसदी की तेजी देखी गई. जिसके बाद इसके भाव 1008 रुपये के स्तर पर पहुंच गए हैं. कल यह 949 रुपये पर बंद हुआ था. पिछले 4 दिनों में कंपनी के शेयर में 26 फीसदी से ज्यादा का उछाल देखा गया है. 21 सितंबर को शेयर बाजार में लिस्ट होने के बाद से निवेशकों को 188 फीसदी रिटर्न मिल चुका है. कंपनी ने मजबूत तिमाही नतीजे भी पेश किए हैं, जिससे शेयर को सपोर्ट मिला है.Also Read - तीन सत्रों में 1,800 अंक से अधिक टूटा सेंसेक्स, निफ्टी बमुश्किल 17,750 अंकों पर

इश्यू प्राइस से 188 फीसदी बढ़त Also Read - Paytm Shares: बड़े नुकसान के बीच पेटीएम के शेयरों की बाजार में पकड़ मजबूत

रूट मोबाइल का शेयर 21 सितंबर को शेयर बाजार में लिस्ट हुआ था. इस आईपीओ का इश्यू प्राइस 350 रुपये था. इश्यू की बाजार में दमदार एंट्री हुई और यह 100 फीसदी से ज्यादा प्रीमियम पर 708 रुपये के भ्ज्ञाव पर लिस्ट हुआ. हालांकि 21 सितंबर को यह 86 फीसदी प्रीमियम के साथ 651 रुपये पर बंद हुआ. आज यानी 30 अक्टूबर को शेयर 1008 रुपये पर पहुंच गया जो इश्यू प्राइस से 188 फीसदी ज्यादा है. जिन्होंने शेयर में 5 लाख रुपये लगाए होंगे, उनका पैसा बढ़कर 14.5 लाख के करीब हो गया. Also Read - Buzzing Penny Stocks: पिछले 18 महीनों में 850 से ज्यादा पेनी स्टॉक्स 100 फीसदी से अधिक बढ़े

कंपनी का मुनाफा बढ़कर हुआ दोगुना

सितंबर तिमाही में रूट मोबाइल का मुनाफा दोगुना होकर 32.7 करोड़ रुपये रहा है. बाजार में लिस्ट होने के बाद यह कंपनी का पहली तिमाही रिजल्ट है. पिछले साल की समान तिमाही में कंपनी को 13 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था. बेहतर तिमाही नतीजों के बाद पिछले 4 दिन में कंपनी के शेयरों में 26 फीसदी तेजी आई है. कंपनी का रेवेन्यू 78 फीसदी बढ़कर 349.3 करोड़ रुपये रहा है. एक साल पहले की समान तिमाही में रेवेन्यू 196.6 करोड़ रुपये रहा था. सितंबर तिमाही में अर्निंग प्रति शेयर (EPS) 6.46 रुपये रहा.

कंपनी प्रोफाइल

कंपनी की शुरूआत साल 2004 में हुई थी. कंपनी मुख्य रूप से ओटीटी और मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटर (एमएनओ) के लिए ओम्नीचैनल क्लाउड कम्युनिकेशन सर्विस का काम करती है. कंपनी के पास दुनिया के सबसे बड़े सोशल मीडिया कंपनियों, बैंकिंग और फायनेंशियल सर्विसेज, एविएशन, रिटेल, ई-कॉमर्स, लॉजिस्टिक, हेल्थ, हॉस्पिटैलिटी और टेलीकॉम सेक्टर सहित अन्य का बड़ा कस्टमर बेस है.