नई दिल्ली: देश की प्रमुख ई-कॉमर्स कंपनियों ने त्योहारी मौसम की ‘सेल’ में पांच दिनों में करीब 15,000 करोड़ रुपये का सामान बेचा है. अमेजन इंडिया और फ्लिपकार्ट जैसी दिग्गज कंपनियों का कहना है कि उन्होंने स्मार्टफोन, बड़े उपकरण और फैशन श्रेणी में जोरदार बिक्री दर्ज की है. रेडसीर कंसल्टिंग ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि ई-कॉमर्स कंपनियों ने 9 से 14 अक्टूबर के दौरान त्योहारी सीजन सेल में बेहतर प्रदर्शन कर करीब 15,000 करोड़ रुपये या दो अरब डॉलर का बिक्री आंकड़ा हासिल किया है. पिछले साल त्योहारी सीजन सेल में ई-कॉमर्स कंपनियों की बिक्री 1.4 अरब डॉलर या 10,325 करोड़ रुपये रही थी. इस लिहाज से पिछले साल के मुकाबले कंपनियों ने बिक्री कारोबार में 64 प्रतिशत की धमाकेदार वृद्धि दर्ज की है.

रेडसीर ने कहा कि उद्योग ने इस साल पिछले वर्ष के मुकाबले ऊंची वृद्धि दर्ज की है. इसकी प्रमुख वजह दूसरी श्रेणी के शहरों से खरीदारी बढ़ना है. इसके अलावा सस्ते दाम और लॉयल्टी योजनाओं की वजह से भी बिक्री बढ़ी है. अमेजन इंडिया के वरिष्ठ उपाध्यक्ष और भारत में प्रमुख अमित अग्रवाल ने कहा कि उनकी ‘ग्रेट इंडियन फेस्टिवल’ सेल के दौरान पहले 36 घंटों में ही पिछले साल दर्ज किया गया आंकड़ा पार हो गया. उन्होंने कहा कि लगभग सभी श्रेणियों में हमारी बिक्री उम्मीद से अधिक रही. 80 प्रतिशत से अधिक नए ग्राहक छोटे शहरों से आए. हम देश में जिन पिन कोड में सेवाएं देते हैं, चार दिन 99 प्रतिशत आर्डर में उनमें से मिले हैं.

वहीं अमेजन की प्रमुख प्रतिद्वंद्वी फ्लिपकार्ट ने दावा किया कि उसकी ‘बिग बिलियन डेज सेल’ ने सभी मौजूदा रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिए और समूचे भारतीय खुदरा उद्योग के लिए एक नया ‘बेंचमार्क’ बना दिया है. पेटीएम मॉल ने कहा कि उसके मंच से करीब 1.2 करोड़ उत्पाद बेचे गए. शॉपक्लूज के आर्डरों का आंकड़ा 15 लाख को पार कर गया. कंपनी ने कहा कि उसे 75 प्रतिशत आर्डर तीसरी और चौथी श्रेणी के शहरों से मिले. मुख्य रूप से उसे कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, असम, गुजरात और पंजाब के छोटे शहरों से आर्डर मिले. स्नैपडील के अनुसार उसको मिले आर्डरों में से 38 प्रतिशत नए खरीदारों से आये हैं.