मुंबई: देश में रुपए की हालत रोज ब रोज पतली होती जा रही है. सोमवार को डॉलर के मुकाबले रुपए में अब तक की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज हुई है. रुपया डॉलर के सर्वकालिक निम्न स्तर 72.18 रुपए पर आ गया. आयातकों की ओर से अमेरिकी मुद्रा की मजबूत मांग से रुपया सोमवार को शुरुआती कारोबार में डॉलर के मुकाबले 45 पैसे गिरकर 72.18 रुपए प्रति डॉलर के नए रिकॉर्ड निम्न स्तर पर आ गया है. दरअसल, अमेरिका में रोजगार आंकड़ों में तेजी से अन्य प्रमुख विदेशी मुद्राओं के मुकाबले डॉलर मजबूत हुआ.

अंतर बैंकिग मुद्रा बाजार में रुपया पिछले कारोबारी सत्र में 71.73 रुपए प्रति डॉलर के स्तर से गिरकर सोमवार को 72.15 रुपए के स्तर पर खुला और जल्द ही 45 पैसे गिरकर 72.18 रुपए प्रति डॉलर के सर्वकालिक निम्न स्तर पर आ गया. इससे पहले 6 सितंबर को रुपया 72.11 रुपये के निम्न स्तर पर रहा था.

मुद्रा डीलरों ने कहा कि आयातकों की ओर से अमेरिकी मुद्रा की मजबूत लिवाली, कच्चे तेल के बढ़ते दाम और पूंजी निकासी से रुपया पर दबाव रहा. इसके अलावा अमेरिका और चीन के बीच व्यापार मोर्चे पर तनाव से अन्य प्रमुख विदेशी मुद्राओं के मुकाबले डॉलर मजबूती रही. इसका भी असर घरेलू मुद्रा पर पड़ा. शुक्रवार के कारोबारी दिन में रुपया 26 पैसे चढ़कर 71.73 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था.
अमेरिका और चीन के बीच व्यापारिक तनाव गहराने से बीते कुछ सप्ताह से रुपए में गिरावट बनी हुई है. रुपया छह सितंबर को पहली बार रुपया, डॉलर के मुकाबले 72 के नीचे लुढ़का था.