स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने 31 जुलाई से अपने खाता धारकों के सेविंग अकाउंट्स पर ब्याज दरों में कटौती की है. एक करोड़ रुपये से कम की जमा पर ब्याज दर को 4 फीसदी से घटाकर 3.5 प्रतिशत कर दिया गया है, जबकि एक करोड़ रुपये से ज़्यादा की जमा पर 4 फीसदी ब्याज मिलता रहेगा.Also Read - What to change from December 1: 1 दिसंबर से पड़ने वाली है महंगाई की और मार, माचिस से लेकर क्रेडिट कार्ड तक हो जाएंगे महंगे, यहां जानें सब कुछ

एसबीआई ने सोमवार से ही टू टायर सेविंग अकाउंट इंटरेस्ट रेट सिस्टम लागू कर दिया है. इसमें 1 करोड़ से कम बैलेंस होने की सूरत में ब्याज दर को घटाकर 3.5 फीसद कर दिया गया है जो कि पहले 4 फीसद थी. वहीं 1 करोड़ से अधिक बैलेंस होने पर ब्याज दर 4 फीसद ही रहेगी. Also Read - SBI Vs Post Office RD: किस योजना में मिलता है निवेश पर ज्यादा ब्याज, यहां पाएं पूरी जानकारी

बैंक की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया कि मुद्रास्फीति की दर में गिरावट और उच्च वास्तविक ब्याज दरें प्राथमिक विचार हैं जो बचत बैंक जमा पर ब्याज दर में संशोधन की गारंटी देते हैं. इसके अलावा बैंक ने कहा कि उसने अपनी एमसीएलआर और की-लैंडिंग रेट में 90 बेसिस प्वाइंट की कटौती की थी जो कि 1 जनवरी 2017 से लागू है. Also Read - SBI Alert: ATM से पैसा निकासी की प्रक्रिया में बड़ा बदलाव, सभी ग्राहकों को होनी चाहिए जानकारी

ब्याज दरों में कटौती के फैसले लेने के बाद एसबीआई के शेयर्स में उछाल देखने को मिला. दिन के करीब 11.45 बजे बीएसई पर एसबीआई के शेयर्स 3.36 फीसद की बढ़त के साथ 309.25 के स्तर पर कारोबार कर रहा है. इसका दिन का उच्चतम 310.25 का स्तर और निम्नतम 298.10 का स्तर रहा है. वहीं इसका 52 हफ्तों का उच्चतम 315 का स्तर और निम्नतम 223 का स्तर रह चुका है.