SBI home loan EMIs to fall: देश के सबसे बड़े बैंक SBI ने कोरोना संकट के बीच अपने लोन ग्राहकों को थोड़ी राहत दी है. उसने सीनियर सिटिजन के लिए भी एक स्कीम की घोषणा की है. दरअसल, उसने सीमांत लागत आधारित ब्याज दर (एमसीएलआर) में 15 आधार अकों की कटौती की घोषणा की है. इस तरह एमसीएलआर अब 7.40 फीसदी से घटकर 7.25 फीसदी हो गया है. यह 10 मई से प्रभावी होगा. इस साल बैंक ने एमसीएलआर ने 12वीं बार ये कमी की है. Also Read - Kisan Credit Card Scheme: संकट काल में किसानों के लिए बेहद कारगर है ये स्कीम, केवल 4% पर मिलता है 3 लाख का लोन

एमसीएलआर में कटौती से होम लोन धारकों की ईएमआई थोड़ी कम होगी. अगर आपने 25 लाख रुपये का लोन 30 वर्षों के लिए लिया है तो उसकी ईएमआई में 255 रुपये मासिक की कमी आएगी. Also Read - बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर 1.2 प्रतिशत रहने का अनुमान: एसबीआई रिपोर्ट

एसबीआई ने बयान में कहा कि ब्याज दरों में गिरावट के मौजूदा दौर में वरिष्ठ नागरिकों के हितों को ध्यान में रखते हुए बैंक ने उनके लिए नया उत्पाद ‘एसबीआई वीकेयर डिपॉजिट’ पेश किया है. बैंक ने यह योजना खुदरा मियादी जमा खंड में शुरू की है. Also Read - RBI Governor Shaktikant Das Speech: लॉकडाउन में चली रेपो रेट पर कैंची, क्या कम होगी EMI?

इस नई जमा योजना के तहत वरिष्ठ नागरिकों को पांच साल और उससे अधिक की अवधि की खुदरा मियादी जमा पर 0.30 प्रतिशत अतिरिक्त प्रीमियम दिया जाएगा. योजना 30 सितंबर तक लागू रहेगी.

हालांकि, एसबीआई ने खुदरा मियादी ‘तीन साल तक की’ जमा पर ब्याज दर में 0.20 प्रतिशत की कटौती की है. बैंक ने कहा है कि प्रणाली और उसके पास पर्याप्त तरलता की वजह से उसने यह कदम उठाया है. यह कटौती 12 मई से लागू होगी.

ऋण दरों में संशोधन पर बैंक ने कहा कि उसने कोष की सीमान्त लागत आधारित ऋण दर (एमसीएलआर) को 7.40 प्रतिशत से घटाकर 7.25 प्रतिशत कर दिया है. यह कटौती 10 मई से प्रभावी होगी.

बैंक ने कहा कि इससे एमसीएलआर से जुड़े 30 साल के 25 लाख रुपये के आवास ऋण पर मासिक किस्त (ईएमआई) में करीब 255 रुपये की कमी आएगी. बैंक द्वारा यह एमसीएलआर में लगातार 12वीं बार कटौती की गई है.

(इनपुट-भाषा)