मुंबईः एसबीआई बैंक में अकाउंड रखने वालों के लिए बैंक की तरफ से एक बुरी खबर आ रही है. सार्वजनिक क्षेत्र के भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने सभी तरह के फिक्स डिपाजिट में ब्याज दरों पर कटौती करने का फैसला लिया है. ब्याज दरों में 0.05 प्रतिशत तक कटौती करने की घोषणा की गई है. इसके साथ ही बैंक ने जमा रकम की ब्याज दरों में 0.15-0.75 तक की भारी कटौती की है. जानकारी के अनुसार बैंक की नई दरें 10 नवंबर से लागू होंगी.

बैंक ने चालू वित्त वर्ष में लगातार सातवीं बार कर्ज पर ब्याज दर में कटौती है. स्टेट बैंक ने बयान में कहा कि इस कटौती के साथ एक साल के ऋण का एमसीएलआर कम होकर 8 प्रतिशत पर आ जाएगा बैंक ने सावधि जमा पर भी अपनी ब्याज दरों में बदलाव किया है. उसने 1 साल से 2 साल तक की अवधि वाले खुदरा सावधि जमा पर ब्याज दर में 0.15 प्रतिशत की कटौती की है. वहीं , सभी परिपक्वता अवधि की थोक सावधि जमा के लिए ब्याज दरों में 0.30 से 0.75 प्रतिशत तक की कटौती की गई है.

आपको बता दें कि अब एसबीआई 7 से 45 दिन की एफजी स्कीम पर 4.50 प्रतिशत ब्याज देगा जबकि 46 से 179 दिन की एफडी स्कीम पर 5.50 प्रतिशत की दर से ब्याज देगा. अगर हम बात करें 180 से 210 दिन वाली एफडी स्कीम की तो इसमें बैंक 5.80 की दर से ब्याज देगा. जबकि 1 साल की एफडी पर अब बैंक ग्राहकों को मात्र 6.25 फीसदी ब्याज मिलेगा. इसी तरह एक साल से ऊपर और दस साल तक वाली एफडी स्कीम पर खाताधारकों को 6.25 फीसदी ब्याज मिलेगा.

आपको बता दें कि इससे पहले अक्टूबर माह में भी SBI ने एमसीएलआर और टर्म डिपॉजिट दिए जाने वाले ब्याज दरों में कटौती की थी. बैंक ने सीनियर सिटीझन के लिए एफडी स्कीम की ब्याज दरों में भी कटौती की है. जहां बैंक ने एक तरफ एफडी स्कीम में ब्जादरों को कम किया है वहीं दूसरी तरफ होम और ऑटो लोन लेने वालो को राहत भी दी है. बैंक ने मार्जिनल लेंडिग रेट को घटा दिया है.