BSE-3-2 Also Read - वैश्विक बिकवाली का दबाव: सेंसेक्स में भारी गिरावट, निफ्टी 10,800 अंक पर आया

मुंबई: देश के शेयर बाजारों में शुक्रवार को तेजी का रुख रहा। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 267.07 अंकों की तेजी के साथ 28,334.63 पर और निफ्टी 75.45 अंकों की तेजी के साथ 8,477.35 पर बंद हुआ। दोनों सूचकांक रिकार्ड उच्च स्तर पर बंद हुए। बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 32.54 अंकों की तेजी के साथ 28,100.10 पर खुला और 267.07 अंकों या 0.95 फीसदी तेजी के साथ 28,334.63 पर बंद हुआ। दिन भर के कारोबार में सेंसेक्स ने 28,360.66 के ऊपरी और 28,038.40 के निचले स्तर को छुआ। Also Read - सेंसेक्स की शीर्ष 10 कंपनियों का बाजार पूंजीकरण में 1.37 लाख करोड़ रुपए का हुआ इजाफा

सेंसेक्स के 30 शेयरों में से 24 में तेजी रही। भेल (3.00 फीसदी), एसबीआईएन (2.68 फीसदी), आईसीआईसीआई बैंक (2.66 फीसदी), हिंडाल्को (2.63 फीसदी) और एक्सिस बैंक (2.17 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही। Also Read - यात्री विमान सेवाएं बहाल होने से एविएशन सेक्टर की कंपनियों के शेयरों में जोरदार तेजी

सेंसेक्स के गिरावट वाले शेयरों में प्रमुख रहे इन्फोसिस (1.79 फीसदी), टाटा पॉवर (1.45 फीसदी), सनफार्मा (1.03 फीसदी), हिंदुस्तान लीवर (0.92 फीसदी) और टाटा स्टील (0.89 फीसदी)।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 6.30 अंकों की तेजी के साथ 8,408.20 पर खुला और 75.45 अंकों या 0.90 फीसदी तेजी के साथ 8,477.35 पर बंद हुआ। दिन भर के कारोबार में निफ्टी ने 8,489.80 के ऊपरी और 8,398.60 के निचले स्तर को छुआ।

सेंसेक्स, निफ्टी रिकार्ड उच्च स्तर पर बंद हुए। इससे पहले सेंसेक्स 17 नवंबर को 28,177.88 के रिकार्ड उच्च स्तर पर और निफ्टी भी उसी दिन 8,430.75 के रिकार्ड उच्च स्तर पर बंद हुआ था।

दोनो सूचकांकों ने रिकार्ड उच्च स्तर भी छुआ। इससे पहले सेंसेक्स ने 19 नवंबर को 28,294.01 के और निफ्टी ने भी उसी दिन 8,455.65 के रिकार्ड उच्च स्तर को छुआ था।

शुक्रवार को बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में हालांकि गिरावट दर्ज की गई। मिडकैप 7.94 अंकों की गिरावट के साथ 10,195.79 पर और स्मॉलकैप 10.89 अंकों की गिरावट के साथ 11,325.84 पर बंद हुआ।

बीएसई के 12 में से नौ सेक्टरों में तेजी दर्ज की गई। बैंकिंग (2.37 फीसदी), पूंजीगत वस्तु (1.32 फीसदी), तेज खपत उपभोक्ता वस्तु (0.90 फीसदी), तेल एवं गैस (0.86 फीसदी) और उपभोक्ता टिकाऊ वस्तु (0.84 फीसदी) सेक्टरों में सर्वाधिक तेजी रही।

बीएसई के गिरावट वाले तीन सेक्टरों में सूचना प्रौद्योगिकी (0.72 फीसदी), प्रौद्योगिकी (0.46 फीसदी) और स्वास्थ्य सेवाएं (0.33 फीसदी) रहे।

बीएसई में कारोबार का रुझान नकारात्मक रहा। कुल 1,375 शेयरों में तेजी और 1,635 में गिरावट दर्ज की गई, जबकि 120 शेयरों के भाव में कोई बदलाव नहीं हुआ।