नई दिल्लीः अमेरिकी शेयर बाजार में भारी गिरावट का असर शुक्रवार को भारतीय शेयर बाजारों पर देखा गया. शुरुआती कारोबार में ही बांबे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स करीब 500 अंकों तक लुढ़क गया. सुबह करीब 9.55 में यह 482 अंकों की गिरावट के साथ 33930 अंकों पर कारोबार कर रहा था. इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी सूचकांक में भी गिरावट देखी गई. वह 146 अंकों की गिरावट के साथ करीब 10,430 पर कारोबार कर रहा था. इससे पहले गुरुवार को अमेरिकी शेयर बाजार में सप्ताह में दूसरी बार प्रमुख सूचकांक डॉव जोंस में 1,000 अंकों से अधिक की गिरावट दर्ज की गई. Also Read - कोरोना काल में जहां डूब रही हैं हजारों कंपनिया वहीं Happiest Minds का IPO मचा रहा है धमाल, जानें निवेशकों के जुटने की वजह

सीएनएन के मुताबिक, डॉव जोंस इंडिस्ट्रयल एवरेज गुरुवार के कारोबार में 1,033 अंकों यानी 4.15 फीसदी की गिरावट के साथ 23,860.46 पर बंद हुआ. यह अमेरिकी शेयर बाजार के इतिहास में दूसरी सबसे बड़ी गिरावट थी. इससे पहले सोमवार को भी बाजार में डॉव जोंस 1,175 अंक टूट गया था. नैस्डैक सूचकांक 274.82 अंकों यानी 3.90 फीसदी की गिरावट के साथ 6,777.16 पर बंद हुआ जबकि एसएंडपी 500 सूचकांक 100.66 अंकों यानी 3.75 फीसदी की गिरावट के साथ 2,581.00 पर बंद हुआ. Also Read - सेंसेक्स की शीर्ष 10 कंपनियों का बाजार पूंजीकरण में 1.37 लाख करोड़ रुपए का हुआ इजाफा

गुरुवार को भारतीय शेयर बाजारों में तेजी दर्ज की गई थी. प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 330.45 अंकों की तेजी के साथ 34,413.16 पर और निफ्टी 100.15 अंकों की तेजी के साथ 10,576.85 पर बंद हुआ था. बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 125.4 अंकों की तेजी के साथ 34,208.11 पर खुला और 330.45 अंकों या 0.97 फीसदी की तेजी के साथ 34,413.16 पर बंद हुआ था. दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 34,634.35 के ऊपरी और 34,108.76 के निचले स्तर को छुआ. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी भी गुरुवार सुबह 41.8 अंकों की तेजी के साथ 10,518.50 पर खुला और 100.15 अंकों या 0.96 फीसदी की तेजी के साथ 10,576.85 पर बंद हुआ. Also Read - यात्री विमान सेवाएं बहाल होने से एविएशन सेक्टर की कंपनियों के शेयरों में जोरदार तेजी