मुंबई : बंबई शेयर बाजार के सेंसेक्स ने गुरुवार को 637 अंकों की लंबी छलांग लगाई, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 11,000 अंक के स्तर के पार निकल गया. बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स कारोबार के दौरान 750 अंक तक उछलने के बाद अंत में 636.86 अंक या 1.74 प्रतिशत की बढ़त के साथ 37,327.36 अंक पर बंद हुआ. दिन में कारोबार के दौरान इसने 37,405.48 अंक का उच्च स्तर छुआ. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 176.95 अंक या 1.63 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,032.45 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान निफ्टी 11,058.05 अंक के उच्च स्तर तक गया तथा यह 10,842.95 अंक के निचले स्तर तक भी आया. कारोबार के अंतिम घंटे में ऊर्जा, तेल एवं गैस, वाहन और आईटी कंपनियों के शेयरों में जोरदार लिवाली देखने को मिली.

ऐसी चर्चा है कि सरकार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) की आय पर ऊंचे कर-अधिभार के कदम को वापस लेने की घोषणा कर सकती है. इस चर्चा के बीच बाजारों में तेजी आई.

सेंसेक्स की कंपनियों में एचसीएल टेक, टाटा मोटर्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा, बजाज ऑटो, रिलायंस इंडस्ट्रीज, हीरो मोटोकॉर्प, यस बैंक, मारुति, एचडीएफसी बैंक और बजाज फाइनेंस के शेयरों में 6.43 प्रतिशत तक का लाभ रहा. वहीं दूसरी ओर टाटा स्टील, इंडसइंड बैंक और एक्सिस बैंक के शेयरों में 3.77 प्रतिशत तक की गिरावट आई.

कारोबारियों ने कहा कि इस तरह की खबरों के बाद कि सरकार एफपीआई पर ऊंचा अधिभार वापस ले सकती है, इससे निवेशकों की धारणा मजबूत हुई. खबरों में कहा गया है कि वित्त मंत्रालय पूंजी बाजार का भरोसा कायम करने के उपायों पर काम कर रहा है.

(इनपुट भाषा से)