Indian Share Markets: अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव ( US Presidential Election) से पहले भारतीय शेयर बाजारों (Indian Share Markets) में इस सप्ताह 2 फीसदी से ज्यादा गिरावट दर्ज की गई. दुनियाभर में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ने, 3 नवंबर को होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव, वैश्विक बाजारों में नरमी और अमेरिका में राहत पैकेज (Stimulus package) का घोषणा पर अनिश्चितता के कारण निवेशक काफी सतर्क हैं और बहुत सोच-समझकर निवेश कर रहे हैं. इन सभी फैक्टर्स का असर भारतीय शेयर बाजार के प्रदर्शन पर पड़ा है और इस सप्ताह इसमें करीब 2.5 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है. Also Read - Share market news: शेयर बाजार की मजबूत शुरुआत, जानिए- आज सेंसेक्स और निफ्टी की क्या रहेगी चाल

विदेशी संस्थागत निवेशकों (FIIs) द्वारा शेयरों की विकवाली के अलावा फ्यूचर्स एंड ऑप्शंस एक्सपायरी (F&O expiry) और दूसरी तिमाही में भारतीय कंपनियों के इनकम में उतार-चढ़ाव का भी इस सप्ताह भारतीय शेयर बाजार पर अशर देखा गया. इस सप्ताह बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) के सेंसेक्स में 1,071.43 अंक यानी 2.6 फीसदी की गिरावट आई और यह 39,614.07 पर बंद हुआ. Also Read - Stock market news update: मिलेजुले ग्लोबल संकेतों से शेयर बाजार सीमित दायरे में बंद, मेटल शेयरों में मजबूती

वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) के निफ्टी में भी 287.95 अंक यानी 2.41 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई और यह 11,642.40 के स्तर पर बंद हुआ. इसके अलावा BSE का स्मॉल कैप इंडेक्स 1.6 फीसदी टूटा. वहीं, इसके मिड कैप में 0.48 फीसदी की गिरावट आई और BSE का लार्ज कैप भी 2.4 फीसदी फिसला. Also Read - Global market news update: ग्लोबल मार्केट से मिल रहे अच्छे संकेत, अमेरिकी और एशियाई बाजारों में मजबूती

जानिए, किन स्टॉक्स ने काटी चांदी, और कौन पड़े फीके

BSE के स्मॉल कैप में जीई पावर इंडिया (GE Power India), सोनाटा सॉप्टवेयर, Himatsingka Seide, ग्लोबस स्पिरिट्स (Globus Spirits), इंडिया बुल्स सर्विसेज, जय प्रकाश पावर वेंचर और इंडो काउंट इंडस्ट्रीज के शेयर में 12 फीसदी से अधिक की गिरावट आई. वहीं, एचबीलएल पावर सिस्टम्स, Carborundum Universal, ऑनमोबाइल ग्लोबल (OnMobile Global), गति (Gati), ब्लूडार्ट एक्सप्रेस और Gufic Biosciences के शेयर में 13 फीसदी से अधिक की तेजी देखने को मिली. वहीं, BSE के मिडकैप में फेडरल बैंक, M&M Financial Services, भारत फोर्ज (Bharat Forge) और फ्यूचर रिटेल सबसे बड़े लूजर रहे. जबकि, अडाणी ग्रीन एनर्जी, Cholamandalam Investment, अडाणी एंटरप्राइजेज और क्रिसिल (CRISIL) सबसे अधिक फायदे में रहे.

BSE लार्ज कैप कंपनियों का हाल

BSE के लार्ज कैप में इस सप्ताह 2.4 फीसदी की गिरावट देखने को मिली. इसमें सबसे बड़ी गिरावट हिन्दुस्तान जिंक, हीरो मोटोकॉर्प, वेदांता, लुपिन फार्मा और डीएलएफ (DLF) के शेयरों में आई. जबकि, इसे कोटक महिंद्रा बैंक, नेस्ले इंडिया, Avenue Supermarts, श्री सीमेंट और अंबुजा सीमेंट से समर्थन मिला. BSE पर कोटक महिंद्रा बैंक का m-cap सबसे अधिक बढ़ा. इसके बाद नेस्ले इंडिया और एशियन पेंट्स का नंबर था. वहीं, सबसे अधिक m-cap में गिरावट रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL), HDFC और इंफोसिस में आई.