मुंबईः घरेलू शेयर बाजार में मंगलवार को फिर कोहराम मचा हुआ था. सेंसेक्स आरंभिक कारोबार के दौरान 1000 अंक से ज्यादा टूटा और निफ्टी में भी 292 अंकों की गिरावट आई. तेल के दाम में आई भारी गिरावट के कारण विदेशी शेयर बाजारों से मिले कमजोर संकेतों से भारतीय शेयर बाजार में शुरूआती कारोबार के दौरान बिकवाली का भारी दबाव रहा. Also Read - यात्री विमान सेवाएं बहाल होने से एविएशन सेक्टर की कंपनियों के शेयरों में जोरदार तेजी

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र से सेंसेक्स 811.81 अंकों की गिरावट के साथ 30,836.19 पर खुला और 30698.99 तक लुढ़का. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी भी पिछले सत्र से 244.9 अंकों की गिरावट के साथ 9016.95 पर खुला और 8984.95 तक लुढ़का. Also Read - Stock Market News Today, 20th May: शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 300 अंक बढ़ा, निफ्टी ने 8,950 का स्तर छुआ

प्रमुख आईटी कंपनी इंफोसिस के शेयरों में मंगलवार को लगभग चार फीसदी की गिरावट आई है. कंपनी ने कोरोना वायरस महामारी का हवाला देते हुए वित्त वर्ष 2020-21 के लिए अपना राजस्व दृष्टिकोण देने से परहेज किया. माना जा रहा है कि महामारी के कारण निकट भविष्य में उसका कारोबार प्रभावित हो सकता है. इसके चलते कंपनी के शेयर बीएसई में 3.85 प्रतिशत गिरकर 627.70 रुपये पर आ गया. एनएसई पर भाव 3.90 प्रतिशत घटकर 627.80 रुपये था. Also Read - बाजार का उत्साह नहीं जगा सका प्रोत्साहन पैकेज, सेंसेक्स 1,069 अंक लुढ़का

इंफोसिस ने सोमवार को बाजार बंद होने के बाद अपने तिमाही नतीजे जारी किए थे, जिसमें उसका समेकित शुद्ध लाभ 6.3 प्रतिशत बढ़ा था, लेकिन कंपनी ने कोविड-19 के प्रकोप के बीच अनिश्चितता का हवाला देते हुए वित्त वर्ष 2020-21 के लिए राजस्व दृष्टिकोण देने से परहेज किया.