कोलंबो: श्रीलंका सरकार ने कहा है कि वह अपने विदेशी मुद्रा भंडार को मजबूत करने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक के साथ 40 करोड़ डॉलर का मुद्रा अदला-बदली करार करने जा रही है. श्रीलंका सरकार के एक शीर्ष मंत्री ने शुक्रवार को कहा कि इससे कोविड-19 महामारी से बुरी तरह प्रभावित उनके देश को वित्तीय स्थिरता सुनिश्चित करने में भी मदद मिलेगी. Also Read - एनपीए के लिए अस्थायी प्रावधानों का 100 फीसदी इस्तेमाल कर सकेंगे बैंक

श्रीलंका मंत्रिमंडल के सह प्रवक्ता और सूचना एवं संचार मंत्री बंडुला गुणावर्देना ने कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे द्वारा वित्त मंत्री के रूप में रखे गए रिजर्व बैंक के साथ वित्तीय सुविधा के करार संबंधी प्रस्ताव को मंजूरी दे दी. इससे देश को लघु अवधि की अंतरराष्ट्रीय नकदी जरूरतों को पूरा करने में मदद मिलेगी. Also Read - RBI ने MSME के लिए दूसरे दौर के लोन के लिए की पुनर्गठन की घोषणा

गुणावर्देना ने कहा कि श्रीलंका रिजर्व बैंक के साथ 40 करोड़ डॉलर की मुद्रा अदला-बदली का अनुबंध करार करेगा. उन्होंने कहा कि इस कदम का मकसद देश के विदेशी मुद्रा भंडार को मजबूत करना है. श्रीलंका ने कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए महत्वपूर्ण आर्थिक उपाय किए हैं. देश में 373 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं. इस महामारी से अब तक यहां सात लोगों की मौत चुकी है. Also Read - RBI Grade B Phase 2 Result 2021 Declared: RBI ने जारी किया ग्रेड B का रिजल्ट, इस Direct Link से करें चेक

(इनपुट भाषा)