नई दिल्ली: अगर बैंक से संबंधित आपका कोई काम अधूरा है तो उसे 25 सितंबर तक पूरा कर लें, क्योंकि इस सप्ताह चार दिन यानी 26, 27, 28, 29 सितंबर तक बैंक बंद रहेंगे. चार दिन के बाद 30 सितंबर को बैंक खुलेंगे लेकिन ग्राहकों का कोई काम नहीं किया जाएगा. 26, 27 यानी गुरुवार, शुक्रवार को हड़ताल है. इसके बाद 28 को शनिवार व 29 को रविवार है. 30 सितंबर यानी सोमवार को बैंक खुलेंगे. पूरे देश के करीब चार लाख बैंक कर्मचारी इस हड़ताल में हिस्सा लेंगे. Also Read - नई दिल्ली में मंदिर हटाने पर मचा हंगामा, केजरीवाल सरकार के खिलाफ धरने पर बैठे लोग

मोदी सरकार का बड़ा कदम, देश का दूसरा बड़ा बैंक बनेगा पीएनबी, मर्ज होंगे UBI-OBC Also Read - Bank Holiday News: इस हफ्ते तीन दिन बैंक रहेंगे बंद, निपटा लें अपना जरूरी काम...

बैंकों के विलय के फैसले के खिलाफ सभी बैंकों ने दो दिवसीय हड़ताल का ऐलान किया है. जिसके चलते 26 और 27 सितंबर को बैंकों की हड़ताल रहेगी, जबकि 28 और 29 सितंबर को शनिवार और रविवार की छुट्टी है. एक रिपोर्ट के अनुसार, देश के चार बैंक यूनियन- ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कॉन्फेडरेशन, ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन, इंडियन नेशनल बैंक ऑफिसर्स कांग्रेस और नेशनल ऑर्गेनाइजेशन ऑफ बैंक ऑफिसर्स ने का कहना है कि वह सरकार द्वारा बैंकों के विलय के फैसले के खिलाफ हैं. हड़ताल के चलते प्रतिदिन लगभग 48 हजार करोड़ के ट्रांजेक्शन पर इसका प्रभाव पड़ सकता है. Also Read - Farmers Protest Latest News: Delhi-UP Border पर बैरिकेड्स हटाने की कोशिश, सिंघु बॉर्डर पर आंदोलन रहेगा जारी

SBI के लोन पर एक अक्‍टूबर से बदल जाएंगे इंटरेस्‍ट रेट, रेपो रेट होगा स्‍टैंडर्ड

लगातार चार दिन बैंक बंद रहने के चलते एटीएम सर्विस और चेक क्लीयर होने पर भी इसका असर पड़ेगा. अधिकारियों के मुताबिक, बैंक बंद रहने के चलते एटीएम मशीनों में नकदी भी नहीं डाली जाएगी साथ ही चेक क्लीयर होने में भी समय लगेगा. इसके अलावा चार दिन बैंक बंद रहने के चलते कर्मचारियों को सैलरी मिलने में भी परेशानी हो सकती है.

बैंकों के विलय से नहीं जाएगी किसी भी कर्मचारी की नौकरीः सीतारमण