नई दिल्ली। टाटा मोटर्स ने आज बताया कि फरवरी में उसकी घरेलू बिक्री में 38 फीसदी का उछाल आया है. फरवरी महीने में बिक्री 58,993 यूनिट तक पहुंच गई. घरेलू बाजार में कमर्शियल और पैसेंजर व्हीकल सेगमेंट में जबरदस्त बिक्री से कंपनी ने ये आंकड़ा छुआ है. कंपनी ने पिछले साल इसी अवधि में 42,679 वहन बेचे थे. Also Read - पिजा की तरह ऑनलाइन खरीदिए SUV या कार, महिंद्रा ने लॉन्च की ये सर्विस

Also Read - महाराष्‍ट्र में बड़ा हादसा, डंपर-एसयूवी की टक्कर में 10 लोगों की मौत

कमर्शियल वाहनों की घरेलू बिक्री में इस महीने 36 फीसदी का उछाल आया है और ये 41,222 यूनिट तक पहुंच गई जो पिछले साल इसी अवधि में 30,407 यूनिट थी. कंपनी ने बिक्री में उछाल का श्रेय इंफ्रास्ट्रक्चरल डेवलपमेंट, कार कैरियर में नए टेंडर, कोल मूवमेंट और पेट्रेलियम सेक्टर को दिया है. Also Read - गंग नहर में कार सहित बहे 6 लोग, तैरकर 2 बाहर निकले, 2 लड़कियों सहित 4 लापता, तलाश जारी

 जीएसटी इफेक्ट: टाटा टियागो, टिगॉर, हेक्सा और सफारी की कीमतों में 2.17 लाख रुपये तक की कटौती

पैसेंजर व्हीकल सेल्स 17,771 यूनिट तक पहुंच गई जो फरवरी 2017 में 12.272 यूनिट थी, यानि इसमें 45 फीसदी का उछाल दर्ज किया गया. कंपनी ने कहा कि पैसेंजर सेल्स में ये उछाल टियागो और टिगॉर के साथ यूवी सेक्शन में नेक्सन, हेक्जा के प्रति लोगों में लगातार दिलचस्पी की वजह से आया है. हालांकि, फरवरी 2018 में वाहनों के निर्यात में 3 फीसदी की कमी आई है और ये 4,768 यूनिट रही.

कंपनी ने बताया कि पैसेंजर कार सेगमेंट में 17 फीसदी का उछाल दर्ज किया गया, जबकि यूवी सेगमेंट में 165 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज हुई है. ये साफ बताता है कि सभी सेगमेंट में टाटा मोटर्स के प्रति ग्राहकों में आकर्षण बढ़ा है. व्यावसायिक वाहनों की बिक्री में बढ़ोतरी के संबंध में, यह कहा गया कि निर्माण, बढ़ती लॉजिस्टिक्स, ई-कॉमर्स और एफएमसीजी एप्लीकेशन की मांग में वृद्धि के कारण विकास को मजबूती दी गई है.

मारुति को चुनौती

टाटा मोटर्स की बिक्री में आए जबरदस्त उछाल से मारुति को जबरदस्त चुनौती मिली है. इस वक्त घरेलू मार्केट में मारुति नंबर वन ब्रांड है. मारुति की कारों और एसयूवी ने घरेलू मार्केट पर जबरदस्त पकड़ बनाई हुई है. ऐसे में टाटा मोटर्स की बिक्री में उछाल से मारुति को आने वाले वक्त में बड़ी चुनौती मिल सकती है.