TDS Report Download: अगर आप जानना चाहते हैं कि इस बार आपका टीडीएस काटा गया है या नहीं और कितना टीडीएस काटा गया है तो आप पैन कार्ड के जरिए पता कर सकते हैं. इसकी प्रक्रिया भी बहुत आसान है. जब आपको कहीं से कमीशन, वेतन या कोई भुगतान मिलता है, तो उसमें से टैक्स का एक हिस्सा काट लिया जाता है और आपके पैन कार्ड खाते में जमा कर दिया जाता है. इस पैसे को टीडीएस कहते हैं, जो आपकी आमदनी के आधार पर तय होता है. लेकिन, ऐसा होता है कि अगर आपकी आय इनकम टैक्स स्लैब में नहीं आती है, तो आपको यह टीडीएस का पैसा वापस मिल जाता है. इसके लिए आपको ITR फाइल करनी होती है, जिससे आपका काटा हुआ पैसा वापस मिल जाता है.Also Read - How to link PAN with Aadhaar Card: सरकार ने जारी किया अलर्ट, 30 सितंबर के पहले करें ये काम, नहीं तो बेकार हो जाएगा पैन कार्ड

अगर आपको भी लगता है कि आपका टीडीएस काट लिया गया है और आप उसे वापस लेना चाहते हैं तो आप उसे वापस ले सकते हैं. ऐसे में जानिए आप कैसे पता लगा सकते हैं कि आपका टीडीएस काटा गया है या नहीं और आप जान सकते हैं कि आपसे कितना टीडीएस काटा गया… उसके बाद आप इसे निकाल सकते हैं. जानिए क्या है इसकी प्रक्रिया और कैसे जानें टीडीएस के बारे में… Also Read - SBI Alert: भारतीय स्टेट बैंक ने ग्राहकों के लिए 2 अलर्ट किए जारी, 44 करोड़ ग्राहकों पर होगा इसका असर

टीडीएस कैसे पता करें? Also Read - Home Loan Calculator: इन-हैंड सैलरी पर मिलता है होम लोन, CTC पर नहीं, जानिए- कैसे की जाती है गणना?

  • सबसे पहले आप गूगल पर इनकम टैक्स फाइलिंग टाइप करके सर्च कर सकते हैं या सीधे इनकम टैक्स की ऑफिशियल वेबसाइट www.incometax.gov.in पर जा सकते हैं.
  • इसके बाद आपको इस वेबसाइट पर लॉग इन करना होगा जिसके लिए आपको सबसे पहले रजिस्ट्रेशन करना होगा. अगर आपने इस पर पहले ही रजिस्ट्रेशन कर लिया है तो आपको इसमें लॉग इन करना होगा. इसमें आपको पैन कार्ड के आधार पर रजिस्ट्रेशन करना होगा और उसी के आधार पर आपको अपनी डिटेल भरनी होगी. डिटेल्स भरने के बाद आप ईमेल और मोबाइल ओटीपी के जरिए उसमें रजिस्टर कर सकेंगे.
  • इसके बाद आपको अपने अकाउंट फॉर्म 26AS टैक्स क्रेडिट वाले विकल्प पर क्लिक करना होगा. इसके बाद आपको View TaX का विकल्प मिलेगा और उसके बाद आपको वर्ष और फ़ाइल प्रकार का चयन करना होगा.
  • इसके बाद आपको आपकी जानकारी मिल जाएगी कि आपसे कितना टीडीएस काटा गया है. इसके साथ ही आपको टीडीएस की विस्तृत जानकारी भी दिखाई देगी, जिसे आप पीडीएफ भी डाउनलोड कर सकते हैं.
  • अगर आपकी कुल आय टैक्स स्लैब में नहीं आती है तो आप इसके लिए रिटर्न फाइल कर सकते हैं और यह पैसा आपको आपके खाते में वापस मिल जाएगा यानी आपका काटा हुआ पैसा आपके बैंक खाते में आ जाएगा.
  • अगर किसी व्यक्ति ने 2019-20 और 2020-21 के लिए आईटीआर दाखिल नहीं किया है, तो उस पर टीडीएस की दर अधिक होगी. धारा 206CCA और धारा 206AB तभी लागू होगी जब दोनों वर्षों के लिए ITR दाखिल नहीं किया जाएगा. यदि किसी एक वर्ष के लिए आईटीआर दाखिल किया गया है तो यह धारा लागू नहीं होगी.