नई दिल्लीः अगर आप 50 साल की उम्र में भी टर्म इंश्योरेंस कराने को लेकर असमंजस की स्थिति में हैं तो फैसला लेने से पहले आप अपनी जिम्मेदारी और जरूरत पर जरूर पर विचार करें, क्योंकि टर्म प्लान्स का प्रीमियम अब 30 से 40 फीसदी कम हो गया है. पॉलिसीबाजार डॉट कॉम के एसोसिएट निदेशक और क्लस्टर प्रमुख (जीवन बीमा) संतोष अग्रवाल का कहना है कि काफी लोग यह समझते हैं कि उम्र ज्यादा होने पर उच्च प्रीमियम देकर टर्म इंश्योरेंस खरीदना सही नहीं होगा. हालांकि ऐसा सोचना काफी हद तक सही भी है क्योंकि एक करोड़ का कवर पाने के लिए 7,400 रुपये का प्रीमियम चुकाना पड़ता है, वह भी 30 साल की उम्र वालों को.Also Read - Bihar Panchayat Election 2021: कल होगा 10वें चरण का मतदान, नहीं है पहचान पत्र तब भी दीजिए वोट, जानिए कैसे

जब उम्र ज्यादा होती है तो प्रीमियम की राशि भी ज्यादा हो जाती है लेकिन अग्रवाल कहते हैं कि उत्पाद नवाचार और पारदर्शिता से टर्म प्लान्स के प्रीमियम में अप्रत्याशित कमी आई है, जिससे किसी भी उम्र में खरीदने पर किफायती बन गई है. उन्होंने कहा, “देश में टर्म प्लान्स के प्रीमियम में 30 से 40 फीसदी की कमी आई है. उदाहरण के लिए पीएनबी मेट लाइफ के मेरा टर्म प्लान एक करोड़ रुपये का बीमा 23,000 रुपये के प्रीमियम पर करता है.” Also Read - भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए दक्षिण अफ्रीका टीम का ऐलान; कगिसो रबाडा, एनरिक नॉर्टजे और क्विंटन डी कॉक शामिल

उनका कहना है कि इससे पहले आप टर्म इंश्योरेंस के गुण-दोष को परखें. आपको यह तथ्य ध्यान में रखना चाहिए कि अब शादियां 30 की उम्र के आसपास में होती है और समाचार रिपोर्टों के मुताबिक शादी के वक्त शहरों में पुरुष की औसत उम्र 29-30 साल और महिलाओं की 26 साल होती है. इसका मतलब यह है कि जीवन में जिम्मेदारियां भी अब देर से आती हैं इसलिए अगर आप अपने परिवार के मुख्य कमानेवाले हैं तो समाज के बदलते परिदृश्य के मद्देनजर आपकी वित्तीय जिम्मेदारियों का दायरा बुढ़ापे तक बना रहेगा. इसलिए अपने परिजनों की वित्तीय आजादी सुनिश्चित करने के लिए इंश्योरेंस लेना एक अच्छा कदम होगा. Also Read - Budget 2022: यूनियन बजट के बारे में रोचक तथ्य, जो आपको जानना है जरूरी

अग्रवाल कहते हैं, “अगर आपने कोई कर्ज ले रखा है जैसे होम लोन तो ऐसे में टर्म इश्योरेंस लेना बेहद जरूरी है और बीमा की अवधि अपनी कर्ज की अवधि तक जरूर रखें, ताकि किसी अप्रत्याशित स्थिति में आपके आश्रितों (पत्नी, बच्चों) पर इसका बोझ ना पड़े इसलिए टर्म इंश्योरेंस खरीदने के फैसले को प्रीमियम या उम्र से हिसाब से ना तय करें.” विशेषज्ञों का कहना है कि टर्म कवर का मूल्य सालाना आय का कम से कम 10-12 गुणा होना चाहिए.

(आईएएनएस)