नई दिल्ली: दिसंबर का महीना आधा बीत चुका है ऐसे में ग्राहकों को आने वाले दिनों में बैंकिंग, सड़क और दूरसंचार क्षेत्रों में कई तरह के बदलावों का सामना करना पड़ सकता है. इन बदलावों का असर आम जनता पर पड़ेगा. आइए जानते हैं इन बदलावों के बारे में. Also Read - SBI Alert: बैंक ग्राहकों के लिए दो बड़ी खबरें, 30 जून है डेडलाइन, किया इग्नोर तो लगेगा जुर्माना

FASTag-toll-plaza

FASTag-toll-plaza

बिना फास्टैग के घुसने पर लगेगा जुर्माना- 15 दिसंबर से किसी भी राष्ट्रीय राजमार्ग के टोलप्लाजा में बिना फास्टैग एंट्री करने पर आपको जुर्माना भरना पड़ सकता है. पहले इस नियम को एक दिसंबर से लागू किया जाना था. टोल प्लाजा पर कैश की सिर्फ एक ही लाइन होगी और आप बिना कार्ड फास्ट टैग की लाइन में घुस गए तो आपको दोगुना टोल देना होगा. 15 दिसंबर से कोई बिना फास्टैग कार्ड लगाए वाहन फास्टैग की लाइन में घुस जाता है तो दोगुना टोल वसूला जाए. एनएचएआई के सभी टोल पर 15 दिसंबर से फास्टैग अनिवार्य होगा. Also Read - टोल प्लाजा पर 100 मीटर से ज्यादा हुई गाड़ियों की लाइन तो नहीं लगेगा टैक्स, देखें तस्वीरें

ICICI-Bank

ICICI-Bank

ICICI बैंक में सिर्फ इतने ट्रांजेक्शन होंगे फ्री- ICICI बैंक 15 दिसंबर से कैश ट्रांजैक्शन चार्जेज में बदलाव करने जा रहा है. 15 दिसंबर से एक तय लिमिट से ज्यादा कैश ट्रांजैक्शन पर आपको ज्यादा चार्ज देने होंगे. इस बदलाव के चलते अब ग्राहक केवल 4 बार ही नकद लेनदेन की सुविघा देगा. इसके बाद किए गए लेनदेन पर 150 रुपए का चार्ज लगाया जाएगा. ग्राहक होम ब्रांच से जमा व निकासी मिलाकर एक अकाउंट से हर महीने 2 लाख रुपये बिना किसी चार्ज के निकाल सकेंगे. 2 लाख रुपये से ज्यादा रकम पर प्रति 1000 रुपये पर 5 रुपये के हिसाब से चार्ज होगा, जो मिनिमम 150 रुपये होगा. ICICI बैंक ने कैश ट्रांजैक्शन के साथ एटीएम ट्रांजैक्शन के चार्जेस में भी बदलाव किए हैं. वेबसाइट पर दी जानकारी के मुताबिक, बैंक के खाताधारकों को एक महीने में पहला 5 फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन फ्री होंगे. Also Read - टोल प्लाजा से जुड़ी बड़ी खबर, अब 100 मीटर से अधिक हुई गाड़ियों की लाइन तो नहीं देना होगा टैक्स

number portability

number portability

नंबर पोर्टेबिलिटी होगी आसान- 16 दिसंबर के बाद से मोबाइल नंबर को पोर्ट कराना आसान हो जाएगा. ग्राहक केवल 3 दिनों में ही अपने नंबर को पोर्ट करा सकेंगे. वहीं, एक सर्किल से दूसरे सर्किल में पोर्ट को 5 कार्य दिवस में पूरा करना होगा ट्राई ने स्पष्ट किया है कि कॉरपोरेट मोबाइल कनेक्शनों की पोर्टिंग की समय सीमा में कोई बदलाव नहीं किया गया है. ट्राई ने कहा कि MNP (मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी) प्रक्रिया में संशोधन किया गया है. संशोधित एमएनपी प्रक्रिया में UPC (यूनिक पोर्टिंग कोड) तभी बनेगा जबकि ग्राहक अपने मोबाइल नंबर को पोर्ट करने के पात्र होगा.

NEFT

NEFT

NEFT से लेनदेन हुआ आसान- डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए रिजर्व बैंक ने घोषणा की है कि एनईएफटी सुविधा 16 दिसंबर से दिन-रात चौबीसों घंटे चालू रहेगी. बता दें कि एनईएफटी लेन-देन का निस्तारण सामान्य दिनों में सुबह आठ बजे से शाम सात बजे के दौरान तथा पहले एवं तीसरे शनिवार को सुबह आठ बजे से दोपहर एक बजे तक घंटे के आधार पर किया जाता है.

7th Pay Commision: नए साल पर मोदी सरकार कर्मचारियों को देगी बड़ा तोहफा, बढ़ेगी इतनी सैलरी